चारा मशीन में कटी 500 के नोटों की लाखों की रक़म,चोरी के बाद चोर ने छिपाई थी घास में रक़म

चारा मशीन में कटी 500 के नोटों की लाखों की रक़म,चोरी के बाद चोर ने छिपाई थी घास में रक़म

मथुरा:
उत्तर प्रदेश के मथुरा ज़िले के जैंत थानाक्षेत्र के अल्हैपुर गाँव में एक परिवार के लोग उस समय हैरान रह गया जब उन्होंने चारा काट रही मशीन से चारे के साथ 500-500 रुपए के छोटे-छोटे टुकड़े निकलते देखे। ग्रामीणों के अनुसार यह रक़म एक लाख रुपए से कहीं अधिक हो सकती है। इसके बाद ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस को दी।

सूचना के बाद जब पुलिस ने मामले की कुछ छानबीन की तो पता चला कि अल्हैपुर गाँव निवासी एक व्यक्ति राधा रमण गौतम ने अभी 3 दिन पहले अपने घर से सोने व चाँदी के आभूषणों के साथ-साथ लगभग 1 लाख 25 हज़ार रुपये की नक़दी ग़ायब होने की पुलिस को सूचना दी थी। ग्रामीण की रिपोर्ट के बाद गाँव मे जाँच करने पहुँची पुलिस को घटनास्थल के निरीक्षण के दौरान आभूषणों का ख़ाली डिब्बा तो घर के ही पीछे मिल गया और घर का ताला एक बबूल के पेड़ पर लटका मिला था। जबकि रक़म का कोई अता-पता नहीं चल पाया था।

चारा मशीन में कटी 500
सांकेतिक चित्र

इस चोरी के संबंध में पुलिस ने 2 दिन पहले कहा था कि “इस चोरी में किसी बाहरी व्यक्ति की बजाये घर के ही किसी व्यक्ति का ही हाथ होने की आशंका है।” लेकिन अब जब उसी घर में ही बड़ी संख्या में चारा मशीन में 500-500 रुपये के नोटों की कतरन पायी गई तो पुलिस का कहना है कि “अब यह आशंका और पुख़्ता हो गई कि इस चोरी में घर के ही किसी व्यक्ति का हाथ है।” पुलिस का कहना कि “पुलिस ने नोटों की सारी कतरने इकठ्ठा कर अपने क़ब्जे में कर ली।

पुलिस के अनुसार नक़दी और आभूषण चुराने वाले चोर ने चोरी की इस रक़म को चारे में छिपा दिया होगा और अनभिज्ञता के चलते यें नोट चारा काटने वाली मशीन में कटकर कतरन में बदल गये हैं।” पुलिस अभी इस मामले की जाँच कर रही है। अब जाँच के बाद ही पता चल पायेगा कि इस चोरी की वारदात को किसने अन्जाम दिया है?

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]