Aligarh Communal Violence: अलीगढ़ में बाइक की टक्कर के बाद हंगामा सांप्रदायिक संघर्ष, पथराव और फ़ायरिंग में कई लोग हुए घायल

Aligarh Communal Violence: अलीगढ़ में बाइक की टक्कर के बाद हंगामा सांप्रदायिक संघर्ष, पथराव और फ़ायरिंग में कई लोग हुए घायल

 

 

अलीगढ़: Aligarh Communal Violence- यूपी के अलीगढ़ में बाइक की टक्कर को लेकर हुए मामूली से विवाद ने बीती रात सांप्रदायिक रंग ले लिया। दो समुदाय के युवकों के बीच हुए हुए विवाद के बाद यकायक दोनों पक्षों के लोग आमने सामने आ गये, और जमकर ईट पत्थर चले। बताया जा रहा है कि पुलिस की मौजूदगी में भी दोनों पक्षों के बीच पथराव जारी रहा।Aligarh Communal Violence

घटना के थोड़ी ही देर बाद आई.जी दीपक कुमार, ज़िलाधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह व एस.एस.पी कलानिधि नैथानी के मौक़े पर पहुँचने के बाद आरोपी भाग निकले, इसके बाद मामला शान्त हुआ। इस घटना में 3 लोगों के घायल होने की ख़बर हैं। (Aligarh Communal Violence)

इस घटना के बाद हिन्दू संगठन व भाजपाई लोग मौक़े पर पहुँचे और सराय सुल्तानी में स्थित माँस की दुकानों का विरोध करते हुए कहा कि अचल ताल का यह क्षेत्र हिन्दुओं का प्राचीन धार्मिक क्षेत्र है, और पौराणिक महत्व को रखता है, इसलिये इस क्षेत्र में माँस की दुकानें नहीं होनी चाहिये। (Aligarh Communal Violence)

मीडिया रिपोर्ट्स अनुसार घटना के संबंध में आई.जी दीपक कुमार ने बताया कि दोनों पक्षों के बीच ख़ाना खाने को लेकर कुछ विवाद हुआ था, जिसके बाद यहाँ पथराव शुरु हो गया। इस घटना में कुछ लोग घायल हुए हैं जिन्हें इलाज के लिये हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। आईजी ने कहा कि इस मामले जाँच जारी है और जो भी दोषी पाये जायेंगे उनके विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगी। (Aligarh Communal Violence)
यह भी पढ़ें- हाईकोर्ट ने स्कूलों को दिया कोरोना काल में ली गयी फ़ीस का 15 प्रतिशत पैसा लौटाने का आदेश, यूपी के सभी स्कूलों पर लागू होगा यह आदेशCovid Pandamic Time School Fees Matter

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]