Alt News Founders in Nobel Prize List: ऑल्‍ट न्यूज़ के संस्‍थापक पत्रकार प्रतीक सिन्‍हा और मोहम्‍मद जुबैर नोबेल शांति पुरस्‍कार लिस्ट में शामिल, शुक्रवार को की जायेगी नोबल पुरस्कार की घोषणा

Alt News Founders in Nobel Prize List: ऑल्‍ट न्यूज़ के संस्‍थापक पत्रकार प्रतीक सिन्‍हा और मोहम्‍मद जुबैर नोबेल शांति पुरस्‍कार लिस्ट में शामिल, शुक्रवार को की जायेगी नोबल पुरस्कार की घोषणा

नई दिल्ली: Alt News Founders in Nobel Prize List- दुनिया के सबसे बड़े पुरस्कारों में से एक शान्ति के नोबेल पुरस्कारों का ऐलान आगामी 8 अक्टूबर को होने जा रहा है। इस वर्ष शान्ति के नोबल पुरस्‍कार जिन लोगों में से दिया जाना है, उनके नामों को जो अन्तिम रूप दिया गया है।

मीडिया रिपोर्ट्स अनुसार इस अन्तिम रूप फ़ी हुई लिस्ट के नामों में भारत की प्रसिद्ध फ़ैक्ट चेकिंग वेबसाइट ऑल्‍ट न्‍यूज (Alt News) के संस्‍थापक प्रतीक सिन्‍हा व मोहम्‍मद जुबैर का नाम भी शामिल है। जो कि लिस्ट में सबसे ऊपर चल रहे हैं। (Alt News Founders in Nobel Prize List)

इस बात का दावा रायटर्स के एक सर्वेक्षण में किया गया है। बता दें कि नोबेल शान्ति पुरस्कार की घोषणा शुक्रवार को नार्वे की राजधानी ‘ओस्‍लो’ में किया जायेगा। इस नोबेल शान्ति पुरस्‍कार के विजेता का सिलेक्शन नार्वे की 5 सदस्यीय समिति के द्वारा किया जायेगा।Alt News Founders in Nobel Prize List

इस लिस्ट में प्रतीक सिन्हा व मोहम्मद जुबैर के अलावा WHO (विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन), म्‍यांमार की राष्‍ट्रीय एकता सरकार, बेलारूस की विपक्षी पार्टी के नेता स्वेतलाना के नाम भी सम्मिलित हैं। लेकिन यह शान्ति का नोबल पुरस्कार किसकी झोली में आयेगा? ये शुक्रवार को क्लियर हो जायेगा। (Alt News Founders in Nobel Prize List)

आपको बता दें कि दुनिया की प्रसिद्ध पत्रिका टाइम मैगजीन (Time Magzine) ने भी इससे सम्बंधित एक रिपोर्ट छापी है, जिसमें भारत की फ़ैक्ट चेकर वेबसाइट ऑल्ट न्यूज़ (Alt News) के संस्थापक प्रतीक सिन्‍हा व सह-संस्थापक मोहम्‍मद जुबैर के बारे में लिखा है।

इस रिपोर्ट में फ़ैक्ट चेकिंग वेबसाइट Alt News और इसके दोनों संस्थापकों का ज़िक्र करते हुए लिखा है कि यें दोनों ही पत्रकार भारत में फ़र्ज़ी सूचनाओं का ख़ुलासा करने के लिये कड़ा संघर्ष कर रहे हैं। और सोशल मीडिया पर फ़ैलने वाली झूठी न्यूज़ और अफ़वाहों पर विराम लगाने का काम कर रहे हैं। (Alt News Founders in Nobel Prize List)

आपको बता दें कि इन दोनों नामों में एक नाम उस पत्रकार मोहम्मद ज़ुबैर का है, जिन्हें कुछ समय पहले एक पुरानी कथित विवादित पोस्ट के आधार पर पुलिस ने बिना किसी व्यक्ति की लिखित शिकायत करे ही स्वतः ही गिरफ़्तार कर जेल भेज दिया था। लेकिन बाद में सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद ज़मानत मिल गयी थी।

हालांकि मोहम्मद ज़ुबैर की गिरफ़्तारी के बाद देश में बड़ा विरोध हुआ था। और सोशल मीडिया पर ख़ूब चर्चा हुई थी। लोगों का कहना था कि उनकी गिरफ़्तारी मात्र एक प्रतिशोध के रूप में हुई है। (Alt News Founders in Nobel Prize List)
यह भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश के ग़ाज़ियाबाद के लोनी क्षेत्र में गैस सिलेंडर फटने से बहु मंज़िला इमारत ढही, 3 लोगों की ही मौतLoni Gas Cylinder Blast

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]