America on 5 Terrorist Group: 5 आतंकवादी संगठनों को काली सूची से बाहर करने जा रहा है अमेरिका, जानिये कौन-कौन से हैं यें आतंकी संगठन?

America on 5 Terrorist Group: 5 आतंकवादी संगठनों को काली सूची से बाहर करने जा रहा है अमेरिका, जानिये कौन-कौन से हैं यें आतंकी संगठन?

विदेश समाचार,बर्लिन:
America on 5 Terrorist Group: USA जल्द ही 5 आतंकवादी संगठनों को अपनी काली सूची से बाहर करने की तैयारी कर रहा है। इन में कई ऐसे संगठन भी सम्मिलित हैं जो कि यूरोप, एशिया और मध्य-पूर्व में कई आतंकवादी घटनाओं को अन्जाम दे चुके हैं। लेकिन अब यें संगठन निष्क्रिय हो चुके हैं। इन आतंकी संगठनों में जापानी आतंकी संगठन, बास्क अलगाववादी समूह औम शिनरिक्यो, कट्टरपन्थी यहूदी समूह कहाने काच व 2 इस्लामी संगठन सम्मिलित हैं जो कुछ समय पूर्व तक फलस्तीनी क्षेत्र, इजरायल और मिस्त्र में सक्रिय रहे हैं। (America on 5 Terrorist Group)

इस संबंध में अमेरिकी विदेश विभाग ने शुक्रवार को काँग्रेस को जानकारी दी। इन 5 आतंकी संगठनों में से 1 संगठन को छोड़कर सभी को प्रथम बार वर्ष-1997 में विदेशी आतंकवादी संगठन घोषित किया गया था। इनमें से ‘शिनरिक्यो’ ने वर्ष- 1995 में टोक्यो मेट्रो पर सरीन गैस हमले को अन्जाम दिया था। इस हमले में 13 लोग मारे गये थे जबकि सैकड़ों लोग बीमार हो गये थे।

यह ‘शिनरिकयो’ संगठन वर्ष- 2018 के बाद से निष्क्रिय चल रहा है। ‘बास्क अलगाववादी समूह’ ने उत्तरी स्पेन के अलावा अन्य कई स्थानों पर दशकों तक बमबारी व हत्याओं को आ अन्जाम दिया था, जिस में लगभग 800 लोग मारे गये थे जबकि हज़ारों लोग घायल हो गये थे। (America on 5 Terrorist Group)

America on 5 Terrorist Group
America on 5 Terrorist Group

संगठनों के नाम और उनकी गतिविधियां:
1- कहाने काच– इस कट्टरपन्थी यहूदी समूह ‘कहाने काच’ की स्थापना वर्ष- 1971 में कट्टरपन्थी इजरायली रब्बी मीर कहाने ने की थी। उन्होंने वर्ष- 1990 में अपनी हत्या होने तक इस समूह का नेतृत्व किया था। इस समूह के सदस्यों ने अरबों, फलस्तीनियों व इजरायली सरकारी अधिकारियों पर हमले कर बहुत सो हत्या की थी। हालांकि यह ‘कहाने काच’ संगठन वर्ष- 2005 से निष्क्रिय है। (America on 5 Terrorist Group)

2- ओम शिनरिक्यो– एक जापानी ‘सुप्रीम ट्रुथ’ पंथ है जिस ने वर्ष-1995 में टोक्यो मेट्रो पर घातक सरीन गैस हमले को अन्जाम दिया था। इस हमले में 13 लोग मारे गये थे जबकि सैकड़ों लोग गैस हमले के बाद बीमार पड़ गये थे। हालांकि यह संगठन भी वर्ष- 2018 के बाद से निष्क्रिय देखा जा रहा है। इस आतंकी संगठन को वर्ष- 1997 में एक विदेशी आतंकवादी संगठन नामित किया गया था।

3- बास्क फादरलैंड एण्ड लिबर्टी– इस BLF (बास्क फादरलैंड एण्ड लिबर्टी) आतंकवादी संगठन ने उत्तरी स्पेन व अन्य कई स्थानों पर दशकों तक बमबारी करते हुए हत्याओं का एक अलगाववादी अभियान चलाया था, जिस में 800 से ज़्यादा लोग मारे गये थे जबकि हज़ारों लोग घायल हो गये थे। लेकिन जब वर्ष-2010 में संघर्ष विराम की घोषणा हो गई थी तो इसके बाद इस संगठन को भंग कर दिया गया था। इस संगठन को वर्ष- 1997 में एक विदेशी आतंकवादी संगठन नामित किया गया था।

4- गामा-अल-इस्लामिया– यह मिस्र के सुन्नी इस्लामिक आंदोलन से जन्मा आतंकी संगठन है जिस ने वर्ष- 1990 के दशक के दौरान मिस्र की सरकार को गिराने के लिये एक बड़ी लड़ाई लड़ी थी। इस संगठन ने पुलिस व सुरक्षा बलों के साथ साथ वहाँ के पर्यटकों पर भी सैकड़ों घातक हमले किये थे। इस समूह को प्रथम बार वर्ष-1997 में नामित किया गया था।

5- जेरूसलम में मुजाहिदीन शूरा परिषद– यह एक ऐसा संगठन था जिसकी छत के नीचे गाजा में बहुत से इस्लामिक संगठन थे। विभिन्न संगठनों के इस छाता समूह ने वर्ष- 2012 में अपनी स्थापना के बाद से ही इज़राइल पर कई रॉकेट किये और हमलों के बाद इनकी ज़िम्मेदारी खुद ली थी। इस समूहों की मुजाहिदीन शूरा परिषद को पहली बार वर्ष-2014 में नामित किया गया था (America on 5 Terrorist Group)
यह भी पढ़ें- राकेश टिकैत ने BKU के दो फाड़ होने पर दी प्रतिक्रिया,कहा सरकार के दबाव में छोड़ा कुछ लोगों ने संगठन

BKU Rakesh Tikait: राकेश टिकैत ने BKU के दो फाड़ होने पर दी प्रतिक्रिया,कहा सरकार के दबाव में छोड़ा कुछ लोगों ने संगठन

व्हाट्सएप्प ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]