Archana Nag Blackmailer Lady: एक ब्लैकमेलर महिला ‘अर्चना नाग’ के हनी ट्रैप में फँसे मन्त्री और विधायक सहित 25 नेता, जानिये कौन है ये ब्लैकमेलर ‘अर्चना नाग’?

Archana Nag Blackmailer Lady: एक ब्लैकमेलर महिला ‘अर्चना नाग’ के हनी ट्रैप में फँसे मन्त्री और विधायक सहित 25 नेता, जानिये कौन है ये ब्लैकमेलर ‘अर्चना नाग’?

 

भुवनेश्वर: Archana Nag Blackmailer Lady- ओडिशा में एक ब्लैकमेलर महिला के हनी ट्रैप में प्रदेश के 25 सफ़ेद पोश नेताओं के फँसने का एक बड़ा मामला प्रकाश में आया है। ओडिसा के आदिवासी बाहुल्य जनपद कालाहांडी लेकर भुवनेश्वर तक बड़े-बड़े नेताओं और बड़े लोगों को ब्लैकमेल करके अपना एक बड़ा साम्राज्य स्थापित करने वाली ‘अर्चना नाग’ की यह कहानी किसी बॉलीवुड की फ़िल्म की ही तरह है।Archana Nag Blackmailer Lady

ओडिशा राज्य में एक छोटे से गाँव की रहने वाली एक साधारण सी महिला जब भुवनेश्वर पहुँची तो उस समय वह बिल्कुल कंगाल सी थी, लेकिन जब उसने अपना हनी हनी ट्रैप बिछाया तो उसके जाल में ऐसे-ऐसे लोग फँसे कि थोड़े ही समय में करोड़पति बन गयी। कहा जा रहा है कि अर्चना अपने पति जगबन्धु चन्द के साथ आर्थिक रूप से उन बुलंदियों पर पहुँच गयी जहाँ शायद वह साथ जन्मों में भी नहीं पहुँच पाती। (Archana Nag Blackmailer Lady)

कहा जाता है कि जिस लड़की (महिला) के पास कभी चलने के लिये एक साइकिल तक नहीं थी, लेकिन अब वह BMW जैसी महँगी गाड़ियों में घूमने लगी थी। लेकिन अब जब वह सलाखों के पीछे पहुँच गयी तो अब प्रदेश के नामचीन सफ़ेद पोश लोगों के चेहरे बेनक़ाब होने शुरु हो गये हैं। (Archana Nag Blackmailer Lady)Archana Nag Blackmailer Lady

मीडिया रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि उसका पति जगबन्धु चन्द पहले अपने शिकारों को शॉर्टलिस्टेड करता था, इसके बाद अर्चना नाग उनके साथ सोशल मीडिया पर चैट और बातचीत से कनवेंस करके उन्हें अपने घर बुलाया करती थी, जहाँ वे शिकार को अपने हनी ट्रैप में फँसा लेती थी। इसी प्रकार उसके हनी ट्रैप में अधिकांशतः छोटे से लेकर बड़े राजनेता, हाई-प्रोफ़ाइल बिजनेसमैन, सरकारी अधिकारी यहाँ तक कि फ़िल्म निर्माता तक भी उसके जाल ममें फँसते चले गये।Archana Nag Blackmailer Lady

अर्चना नाग ओडिशा के जनपद कालाहांडी के गाँव केसिंगा की रहने वाली हैं, उनका परिवार कभी अपना पैतृक गाँव केंदुगुड़ा छोड़कर केसिंगा में बस गया था। अर्चना नाग सब से बड़ी बेटी हैं। अर्चना का विवाह बालासोर जनपद के जलेश्वर निवासी जगबन्धु चन्द के साथ हुआ। जो कि पहले एक बहुत निर्धन परिवार से थे। लेकिन विवाह से पूर्व ही जगबन्धु चन्द गाँव छोड़कर भुवनेश्वर में एक होटल में काम करने लगा। वहीं उसकी मुलाक़ात अर्चना से हुई और बाद में दोनों ने शादी कर ली।

लेकिन इसके बाद अर्चना नाग और उसके पति जगबन्धु चन्द ने मिलकर बड़े-बड़े लोगों मो हनी ट्रैप में फँसाने का धन्धा शुरु कर दिया। पति बड़े-बड़े पैसे वाले लोगों को शार्ट लिस्टेड करता था और अर्चना नाग पहले अपने शिकार को सोशल मीडिया पर सर्च कर उनसे चैट करती थी, फ़िर बातचीत करती थी और अन्त में वह अपने शिकार को घर पर बुलाती थी। ख़ाना खिलाने के बाद अर्चना अपने शिकार को विशेष बेडरूम में ले जाती थी जहाँ पर स्पाई कैमरे फिट थे। यहीं से लोग उसके चंगुल में ऐसे फँसते थे कि निकलना मुश्किल हो जाता था।Archana Nag Blackmailer Lady

इस प्रकार हनी ट्रैप में फंसाकर लोगों को ब्लैकमेल कर अर्चना नाग और उसके पति ने अकूत सम्पत्ति बना ली। मीडिया रिपोर्ट्स अनुसार अर्चना नाग जब पुलिस के हत्थे चढ़ी तो उसके पास से लगभग 3 करोड़ रुपये का भव्य बंगला, एक फ़ार्महाउस, एक कार शोरूम में बड़ी हिस्सेदारी, महँगा फर्नीचर और कई BMW जैसी महँगी-महँगी लग्ज़री कारें मिली हैं। इसके अलावा बंगले से 11 करोड़ रुपये कैश भी बरामद हुआ। (Archana Nag Blackmailer Lady)

अर्चना नाग मामले पर भुवनेश्वर के DCP प्रतीक सिंह ने एक पत्रकारवार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि “2 अक्टूबर को खंडागिरी पुलिस स्टेशन में अर्चना नाग के विरुद्ध एक मामला दर्ज किया गया था। उसके विरुद्ध 387, 420 व 506 IT एक्ट के अन्तर्गत 496/22 जैसे मामले दर्ज किये है।”

DCP के अनुसार गिरफ्तार हुई अर्चना के घर व बैंक लाकर से 4 मोबाइल फोन, 2 टेबलेट्स, एक लैपटाप, एक पेन ड्राइव, एक हार्ड डिस्क, बैंक पासबुक ज़ब्त की है। अब पुलिस उसके बैंक के लेनदेन संबंधित सारा विवरण जुटा रही है।
यह भी पढ़ें- तुर्की में कोयला खदान में हुए एक बड़े हादसे में 25 मजदूरों की मौत, अभी भी दर्ज़नों लोग फँसे हैं खदान मेंTurkish Coal Mine Blast

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]