असदुद्दीन ओवैसी पर हमला करने वालों ने किया गुनाह क़ुबूल, कहा हम भी फेमस होकर औरों की तरह हिन्दुत्वादी नेता बनना चाहते थे-Asaduddin Owaisi’s attackers confessed to the crime

हापुड़- Asaduddin Owaisi’s attackers confessed to the crime- AIMIM प्रमुख और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी पर हुए पर 3 फ़रवरी को हुए जानलेवा हमले के आरोपियों पर पुलिस ने अपनी चार्जशीट दाख़िल कर दी है। Hindi Guardian मीडिया के अनुसार चार्जशीट के अनुसार असदुद्दीन ओवैसी पर जानलेवा हमले करने वाले आरोपी सचिन और शुभम ने अपना अपराध क़ुबूल कर लिया है। (Asaduddin Owaisi’s attackers confessed to the crime)

दोनों अपराधियों ने अपराध क़ुबूल करते हुए बताया कि उनकी इच्छा भी बड़े हिन्दुत्वादी नेता बनने की थी। इसलिए वे मुस्लिम सांसद की हत्या कर खुद को फेमस करना चाहते थे। बता दें कि असदुद्दीन ओवैसी पर जानलेवा हमला उस समय हुआ था जब वह उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव-2022 का प्रचार कर रहे थे।

विगत 3 फ़रवरी-2022 को हापुड़ के समीप टोल प्लाज़ा पर AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी की कार पर सचिन और शुभम ने गोलीबारी की थी। इस जानलेवा हमले में असदुद्दीन ओवैसी बाल बाल बच गये थे। इस मामले में CCTV फुटेज के आधार पर पुलिस ने सचिन और शुभम नाम के 2 आरोपियों को अरेस्ट किया था। अब हमले के 2 महीने बाद पुलिस ने चार्जशीट दाख़िल की है। (Asaduddin Owaisi’s attackers confessed to the crime)

इस मामले में हापुड़ पुलिस की तरफ़ से दाख़िल की गयी चार्जशीट के अनुसार आरोपी सचिन व शुभम दोनों मिलकर असदुद्दीन ओवैसी की हत्या करना चाहते थे इसलिए उन्होंने 32 बोर की पिस्टल से फ़ायरिंग की थी। इस चार्जशीट में लिखा है कि आरोपी सचिन व शुभम ने जाति और धर्म के आधार पर देश में दो वर्गों के बीच घृणा (वैमनस्य) पैदा करने के उद्देश्य से इस वारदात को अन्जाम दिया था।

चार्जशीट के अनुसार इन आरोपियों ने NH-09 पर दिन के समय भीड़ भाड़ वाले टोल प्लाज़ा पर असदुद्दीन ओवैसी को निशाना बनाते हुए उन्हें मारने की पूरी तैयारी की थी। यदि इस हमले में सांसद या कोई अन्य व्यक्ति घायल भी हो जाता तो न सिर्फ़ हापुड़ ही बल्कि पूरे यूपी में क़ानून व्यवस्था ख़राब हो जाती। ये ही नहीं इस पूरी घटना को कुछ असामाजिक तत्व हाईलाइट करके माहौल ख़राब कर सकते थे। (Asaduddin Owaisi’s attackers confessed to the crime)

हापुड़ पुलिस ने इस मामले पर अपनी चार्जशीट में सचिन व शुभम के साथ साथ इन्हें हथियार उपलब्ध कराने वाले आलिम को भी आरोपी बनाया है। इनके विरुद्ध IPC की धारा-307 (हत्या का प्रयास) और धारा 120-B (आपराध के षड्यंत्र रचने) के अन्तर्गत मामला दर्ज किया है। इस चार्जशीट में कुल 61 गवाहों के बयान दर्ज किए गये हैं। चार्जशीट से पहले असदुद्दीन ओवैसी की लैंड रोवर कार की भी फोरेंसिक जाँच की गई है। (Asaduddin Owaisi’s attackers confessed to the crime)

यह भी पढ़ें- झारखण्ड रोपवे हादसा: देखें रेस्क्यू ऑपेरशन के दौरान व्यक्ति का हेलिकॉप्टर से हाथ छूटकर मौत होने का दिल दहला देने वाला वीडियोSecond death in Jharkhand Deoghar ropeway accident

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]