अध्योध्या में मस्जिदों के सामने आपत्तिजनक पोस्टर्स और माँस फेंकने वाले संगठन का 24 घंटे के अन्दर किया खुलासा, संगठन के 7 लोग गिरफ़्तार- Ayodhya Mosques Poster Case Revealed

  • अध्योध्या में मस्जिदों के सामने आपत्तिजनक पोस्टर्स और माँस फेंकने वाले संगठन का 24 घंटे के अन्दर किया खुलासा, संगठन के 7 लोग गिरफ़्तार- Ayodhya Mosques Poster Case Revealed

अयोध्या : 28 अप्रैल-2022
Ayodhya Mosques Poster Case Revealed- ईद से पहले उत्तर प्रदेश के अयोध्या में सामाजिक माहौल बिगाड़ने के प्रयास करने के मामले का का पुलिस ने ख़ुलासा कर दिया है। दरअसल अध्योध्या में एक दिन पूर्व मस्जिदों के सामने आपत्तिजनक पोस्टर फेंके जाने का मामला सामने आया था। जिसका अयोध्या पुलिस ने 24 घंटे के अन्दर पर्दाफाश कर दिया है। (Ayodhya Mosques Poster Case Revealed)

मामले का ख़ुलासा करते हुए अयोध्या पुलिस ने बताया कि इस घटना को अन्जाम देने वाले लोग कोई मुस्लिम लोग नहीं बल्कि हिन्दू थे जिन्होंने मुस्लिम बनकर इस घटना को अन्जाम दिया था। इस मामले में पुलिस ने ‘हिन्दू योद्धा संगठन’ के प्रमुख महेश मिश्रा सहित 7 लोगों को गिरफ्तार किया है। वहीं 4 अन्य लोग अभी फ़रार हैं। पुलिस ने इन लोगों को CCTV फुटेज के आधार पर कार्यवाही करते हुए इन लोगों को गिरफ़्तार किया है। (Ayodhya Mosques Poster Case Revealed) ● महाराष्ट्र के धुले में एक बार फ़िर पकड़ी गई तलवारों की बड़ी खेप, राजस्थान से भेजी जा रही थी यें तलवारें

इस घटना के के संबंध में आईजी रेंज अयोध्या के.पी सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि “आरोपी दिल्ली की जहाँगीरपुरी में हुई हिंसा की घटना से नाराज़ थे।” एसएसपी अयोध्या शैलेश पाण्डेय ने बताया कि “घटना को अन्जाम देने के लिए 8 लोग 4 बाइक पर गए थे मास्टर माइंड महेश कुमार मिश्रा ने अपने कुछ साथियों के साथ बृजेश पाण्डेय के घर पर घटना को अन्जाम देने की प्लानिंग की थी। महेश कुमार मिश्रा ने यह पर्चे लालबाग के ‘आशीर्वाद फ्लैक्स’ प्रिंटिंग प्रेस से छपवाये और यहाँ से कुछ फ्लेक्स भी ख़रीदे। आरोपी प्रत्यूष श्रीवास्तव ने चौक की गुदड़ी रोड पर मोहम्मद रफ़ीक़ बुक स्टोर से 2 कुरान की किताबें ख़रीदी।” (Ayodhya Mosques Poster Case Revealed)

अयोध्या एसएसपी शैलेश पाण्डेय ने प्रेसवार्ता में बताया कि आरोपियों ने ‘पम्मी कैंप हाउस’ से टोपियां ख़रीदी थीं। और एक आरोपी आकाश ने लालबाग से माँस ख़रीदा था। इस सामान को 26 अप्रैल की रात 10:00 बजे नाका वर्मा ढाबा पर इकट्‌ठा किया गया इसके बाद सभी बृजेश के घर आ गये और यहीं पर फ्लैक्स पर आपत्तिजनक टिप्पणियां लिखी गई थी। Ayodhya Mosques Poster Case Revealed)

इसके बाद यें सभी लोग 4 बाइक पर देवकाली बाईपास होकर बेनीगंज तिराहा पहुँचे लेकिन वहाँ PRV (पुलिस रेस्पांस व्हीकल) की गाड़ी मौजूद होने की वजह से यहाँ तो वारदात को अन्जाम नहीं कर सके। इसके बाद इन लोगों द्वारा कश्मीरी मोहल्ला मस्जिद में जाकर क़ुरआन शरीफ़ और माँस फेंका गया। इसके बाद इन्होंने राजकरन स्कूल के सामने से टाटशाह मस्जिद पर आपत्तिजनक पर्चे और माँस फेंका।

फिर इन लोगों ने जेल के पीछे गुलाब शाह दरग़ाह पर क़ुरआन शरीफ़ और माँस फेंका। इसी प्रकार इन्होंने सिविल लाइन ईदगाह, घोसियाना रामनगर मस्जिद पर भी आपत्तिजनक पर्चे फेंके। बता दें कि इन आरोपियों ने कोतवाली नगर इलाक़े की 2 और मस्जिदों के सामने आपत्तिजनक पोस्टर्स फेंके थे। पुलिस ने ख़ुलासा करते हुए बताया कि इन आरोपियों ने घटना को अन्जाम देने के लिये मुस्लिम टोपियां लगाई थी। (Ayodhya Mosques Poster Case Revealed)
यह भी पढ़ें- महाराष्ट्र के धुले में एक बार फ़िर पकड़ी गई तलवारों की बड़ी खेप, राजस्थान से भेजी जा रही थी यें तलवारेंDesh Duniya News In Hindi

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]