Chandauli News: यूपी के चंदौली में अन्तिम संस्कार के 21 वर्ष बाद बिल्कुल फ़िल्मी अन्दाज़ में ज़िन्दा मिला व्यक्ति,परिजन हुए आश्चर्यचकित

Chandauli News: यूपी के चंदौली में अन्तिम संस्कार के 21 वर्ष बाद बिल्कुल फ़िल्मी अन्दाज़ में ज़िन्दा मिला व्यक्ति,परिजन हुए आश्चर्यचकित

चंदौली,यूपी: Chandauli News-
उत्तर प्रदेश के चंदौली में 21 साल पहले जिस व्यक्ति को मृत समझकर परिजन परिजन अन्तिम संस्कार कर चुके थे, अब अचानक बिल्कुल फ़िल्मी अन्दाज़ में उस व्यक्ति के ज़िन्दा मिलने पर परिवार में उस समय ख़ुशी का माहौल बन गया, जब मंगलवार को पुलिस घर उस व्यक्ति के घर पहुँची और पुलिस से व्यक्ति के ज़िन्दा होने की बात सुनी।Chandauli News

हालांकि एक बार को तो परिवार ने पुलिस की इस बात पर यक़ीन ही नहीं किया। लेकिन बारे उसके बाद उस शख्स के परिजनों से बात की,लेकिन जब पुलिस ने व्यक्ति का फोटो दिखाया तो पूरा परिवार व्यक्ति के फ़ोटो को देखकर हतप्रभ रह गया। और अब उसके परिजन उसे घर लाने के लिये जम्मू के लिये निकल चुके हैं। और आजकल में परिवार के लोग व्यक्ति को घर लेकर आ जायेंगे। (Chandauli News)

कैसे और कब ग़ायब हुआ था व्यक्ति?
दरअसल आज से 21 साल पहले उत्तर प्रदेश के चंदौली जनपद के धीना थानाक्षेत्र के कमालपुर निवासी जयप्रकाश जायसवाल जो कि मानसिक रूप से थोड़ा कमज़ोर था, अपने पिता मुरली जायसवाल के साथ चंदौली रेलवे स्टेशन पर आईसक्रीम बेचने का काम करता था। (Chandauli News)

साल 2001 में जयप्रकाश अचानक आईसक्रीम बेचते समय लापता हो गया। पिता और परिजनों ने उसे काफ़ी ढूंढा लेकिन उसका कुछ भी पता नहीं चल पाया तो परिवार वालों ने जयप्रकाश जायसवाल की प्रतीकात्मक रूप से उसके अन्तिम संस्कार की रस्म पूरी कर दी। और उसकी खोजबीन करनी भी छोड़ दी। (Chandauli News)

जयप्रकाश भटकते हुए पहुँच गया था-
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार जयप्रकाश चंदौली से भटकते हुए किसी तरह से जम्मू पहुँच गया, लेकिन जब जम्मू में रेलवे पुलिस द्वारा संदिग्धों की जाँच की जा रही थी, तो जयप्रकाश की जेब से पुलिस को कई ज़िन्दा कारतूस बरामद हुए। पुलिस ने इस संबंध में जब उससे बात करनी चाही तो, मन्दबुद्धि होने के चलते वह कुछ बता ही नहीं पाया।Chandauli News

ऐसे परिस्थितियों में जम्मू पुलिस द्वारा जयप्रकाश को संदिग्ध मानकर जेल में डाल दिया गया। हालांकि क़ैद के दौरान कई बार जयप्रकाश के केस की सुनवायी भी हुई, लेकिन कोई ज़मानत हेतु उसे वहाँ कौन ज़मानतदार मिल पाता, इसलिये वह अब तक जम्मू जेल में पड़ा रहा। जेल में पड़े-पड़े आहिस्ता आहिस्ता उसकी याद’दाश्त वापस लौटी तो उसने पुलिस की पूछताछ के दौरान अपना पूरा पता बता दिया। (Chandauli News)

इसके बाद जम्मू पुलिस ने चंदौली के थाना धीना पुलिस से सम्पर्क किया। और व्यक्ति की बाबत जानकारी दी। जिसके बाद मंगलवार को धीना थाना से पुलिसकर्मी जयप्रकाश जायसवाल के घर पहुँचे और परिजनों व्यक्ति के बारे में जानकारी दी। लेकिन जो परिवार आज से 21 साल पहले मृत मानते आ रहे थे, तो पुलिस की यह बात सुनकर आश्चर्यचकित हो गये। (Chandauli News)
यह भी पढ़ें- आदिवासी नौकरानी के साथ हैवानियत करने वाली पूर्व बीजेपी नेत्री सीमा पात्रा हुई गिरफ़्तारSeema Patra Arrested

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]