Chhattisgarh Surguja Hospital News: छत्तीसगढ़ के सरकारी हॉस्पिटल में कथित तौर पर विद्युत आपूर्ति ठप्प होने के चलते 4 नवजात बच्चों की हुई मौत, राज्य सरकार ने दिये जाँच के आदेश

Chhattisgarh Surguja Hospital News: छत्तीसगढ़ के सरकारी हॉस्पिटल में कथित तौर पर विद्युत आपूर्ति ठप्प होने के चलते 4 नवजात बच्चों की हुई मौत, राज्य सरकार ने दिये जाँच के आदेश

 

सरगुजा (छत्तीसगढ़): Chhattisgarh Surguja Hospital News- छत्तीसगढ़ के सरगुजा जनपद के एक सरकारी हॉस्पिटल में आज (सोमवार) कथित तौर पर 4 घण्टे तक विद्युत आपूर्ति ठप्प रहने के चलते 4 नवजात शिशुओं की मौत हो गयी। इस घटना के बाद राज्य सरकार ने मामले की जाँच के आदेश दे दिये हैं।

जहाँ एक ओर मृतक बच्चों के परिजनों का कहना है कि हॉस्पिटल में बिजली आपूर्ति बन्द होने के कारण ही उनके बच्चों की मौत हुई है, वहीं हॉस्पिटल और ज़िला प्रशासन का कहना है कि बच्चों की मौत की वजह विद्युत आपूर्ति ठप्प होना नहीं है। (Chhattisgarh Surguja Hospital News)

इस संबंध में सरगुजा ज़िलाधिकारी कुन्दन कुमार ने मीडियाकर्मियों से बातचीत करते हुए कहा कि अम्बिकापुर के सरकारी मेडिकल कॉलेज के हॉस्पिटल में आज सवेरे 5:30am से 8:30am बजे के मध्य 4 बच्चों की मौत हुई है। लेकिन जिन 4 बच्चों की मृत्यु हुई है उनकी हालत पहले ही गम्भीर थी, जो कि हॉस्पिटल के SNCU (विशेष नवजात शिशु देखभाल इकाई) में भर्ती थे।Chhattisgarh Surguja Hospital News

ज़िलाधिकारी का कहना है कि हॉस्पिटल में रात्रि 1:00 बजे से 1:30 बजे के मध्य विद्युत आपूर्ति ज़रूर बाधित रही लेकिन कुछ ही समय में बिजली समस्या को दुरुस्त कर लिया गया था। लेकिन इससे SNCU में विद्युत आपूर्ति पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है, क्योंकि वहाँ वैकल्पिक विद्युत आपूर्ति की व्यवस्था रहती है।” (Chhattisgarh Surguja Hospital News)

घटना सामने आने के बाद राज्य के स्वास्थ्य मन्त्री टी०एस० सिंह देव ने स्वास्थ्य सचिव को इस घटना की जाँच हेतु एक टीम गठित करने का आदेश देते हुए मामले की जाँच करने के निर्देश दिये हैं। स्वास्थ मन्त्री ने कहा कि “उन्होंने अधिकारियों को इस संबंध में ज़रूरत अनुसार कड़ी कार्यवाही करने के भी निर्देश दिये है। (Chhattisgarh Surguja Hospital News)

उधर मृतक बच्चों के परिजनों ने हॉस्पिटल के कर्मचारियों पर घोर लापरवाही बरतने के आरोप लगाते हुए दावा किया कि “रात में 3 घण्टों से ज़्यादा समय तक हॉस्पिटल की विद्युत आपूर्ति बाधित रही है, जिसके चलते ही उनके नवजात बच्चों की मौतें हुई हैं।” इस घटना पर प्रदेश के राज्यपाल अनुसुइया उइके ने खेद व्यक्त किया है।
यह भी पढ़ें- मध्य प्रदेश के रतलाम में बस का इंतज़ार कर रही भीड़ को अनियंत्रित डम्पर ने कुचला, 7 लोगों की हुई मौतRatlam Satarunda Accident

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]