CJI Chandrachud: चीफ़ जस्टिस चन्द्रचूड़ ने फ़टकार लगाते हुए कहा ‘इतनी शक्तिशाली सरकार और एक अदने से सफ़ाई कर्मचारी के विरुद्ध यहाँ (सुप्रीम कोर्ट) तक आ गयी?

CJI Chandrachud: चीफ़ जस्टिस चन्द्रचूड़ ने फ़टकार लगाते हुए कहा ‘इतनी शक्तिशाली सरकार और एक अदने से सफ़ाई कर्मचारी के विरुद्ध यहाँ (सुप्रीम कोर्ट) तक आ गयी?

 

न्यूज़ डेस्क: CJI Chandrachud- चीफ़ जस्टिस डी.वाई चन्द्रचूड़ ने बुधवार को देश के 50-वें CJI के रूप में शपथ ली। शपथ ग्रहण के बाद CJI ने कहा कि “वे आम आदमी के हित में कार्य करेंगे।” उनकी कही इस बात के कुछ ही घंटों बाद उनकी कही यह बात उनके एक एक निर्णय में उस समय नज़र भी आ गयी जब CJI चन्द्रचूड़ ने एक सफ़ाई कर्मचारी के विरुद्ध याचिका लगाने पर तमिलनाडु सरकार को फ़टकार लगा दी।CJI Chandrachud

इस मामले में CJI चन्द्रचूड़बने तमिलनाडु सरकार की याचिका को ख़ारिज करते हुए कहा कि “यह क्या हो रहा है? एक राज्य की इतनी शक्तिशाली सरकार और एक अदने से सफ़ाई कर्मचारी के विरुद्ध अपील में यहाँ तक आ गयी है?…यह खेदजनक है।” (CJI Chandrachud)

बता दें कि मद्रास हाईकोर्ट ने हाल ही में एक सरकारी विद्यालय में पार्ट टाइम जॉब कर रहे एक सफ़ाई कर्मी को स्थायी नियुक्ति में मिलने वाले लाभ देने का आदेश दिया था। लेकिन तमिलनाडु सरकार ने इसके विरुद्ध सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाख़िल कर दी थी। (CJI Chandrachud)

जब यह मामला नव नियुक्त CJI चन्द्रचूड़ की बेंच के सामने आया तो, उन्होंने अपने निर्णय में कहा कि “एक आदमी ने 22 वर्षो तक विद्यालय में अपनी सेवा दी, लेकिन अब जब 22 वर्ष बाद जब वह घर लौट रहा हो, वह भी बिना किसी पेंशन, ग्रेच्युटी के… यह हमारे समाज का बहुत ही निचला स्तर है।” (CJI Chandrachud)

CJI चन्द्रचूड़ ने आगे कहा कि “हैरत है कि एक राज्य की शक्तिशाली सरकार एक अदने से सफ़ई कर्मी के विरुद्ध सुप्रीम कोर्ट तक आ गयी? (CJI Chandrachud)
यह भी पढ़ें- बिहार के नवादा में क़र्ज़ से परेशान एक ही परिवार के 5 लोगों ने ज़हर ख़ाकर किया सुसाइडMass suicide in Bihar's Nawada

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]