जिनके घर शीशे के हों वो दूसरों पर पत्थर नहीं उछाला करते, ये कहावत चरितार्थ करती है जहाँगीरपुरी हिंसा के आरोपी अंसार को जो हैं हर ग़ैर क़ानूनी काम में लिप्त- Delhi violence accused Ansar has illegal business

  • जिनके घर शीशे के हों वो दूसरों पर पत्थर नहीं उछाला करते, ये कहावत चरितार्थ करती है जहाँगीरपुरी हिंसा के आरोपी अंसार को जो हैं हर ग़ैर क़ानूनी काम में लिप्त- Delhi violence accused Ansar has illegal business

नई दिल्ली : 
Delhi violence accused Ansar has illegal business-दिल्ली के जहाँगीरपुरी हिंसा के मास्टरमाइंड अंसार की जब जाँच हुई तो उनके कारोबार की जो परतें खुलकर सामने आ रही हैं उनसे पता चल रहा है कि अंसार के राजनीतिक संरक्षण में बहुत सारे अवैध कारोबार हैं। स्क्रैप डीलर अंसार सोना, शराब, और लक्ज़री कारों के अलावा हथियारों का भी शौक रखते हैं। इसीलिए उसका अपने क्षेत्र में काफ़ी दबदबा है। यह सब बता रहीं हैं अंसार की वें तस्वीरें जो इन दिनों सोशल मीडिया में ख़ूब वायरल हो रही हैं।Delhi violence accused Ansar has illegal business

बताया जा रहा है कि सिर्फ़ कक्षा 4 तक पढ़े अंसार का जुर्म की दुनिया से भी पुराना नाता है। पुलिस ने जब BMW कार के साथ अंसार की कुछ तस्वीरें देखी तो आशंका जताई गई कि अंसार पास लग्ज़री गाड़ियां भी हो सकती हैं। हालांकि इस संबंध में पुलिस की पूछताछ में पता चला है कि उसने किसी को ब्याज़ पर पैसा देकर बदले में उसकी BMW कार कुछ वक़्त के लिये आरजी तौर अपने पास रखी हुई थी। (Delhi violence accused Ansar has illegal business)

जहाँगीरपुरी दंगों के मुख्य आरोपी अंसार पर आम आदमी पार्टी ने लगाया सनसनीखेज़ आरोप, कहा अंसार है बीजेपी नेता।

अब दिल्ली पुलिस दंगे के आरोपी अंसार के हवाला से सम्बन्ध होने के सिलसिले में की भी जाँच कर रही है। पुलिस को यह भी शक है कि उसके पास पुरानी लग्ज़री कारों के साथ-साथ अकूत सम्पत्ति भी हो सकती है। वैसे अभी आधिकारिक रुप से इस बारे में कोई जानकारी नहीं है। जाँच में पता चला है कि 42 वर्षीय अंसार पर वर्ष- 2009 में ‘आर्म्स एक्ट’ के अन्तर्गत उनकी ज़िन्दगी का पहला मामला दर्ज हुआ था। इसके बाद वर्ष-2011 से वर्ष-2019 के बीच ‘गैंबलिंग एक्ट’ के भी अंसार पर 3 मामले दर्ज हुए थे। Delhi violence accused Ansar has illegal business(Delhi violence accused Ansar has illegal business)

असंरा के विरुद्ध वर्ष-2013 में छेड़छाड़ की धारा-509, मारपीट करने की धारा-323 और धमकाने की धारा-509 के अन्तर्गत भी केस दर्ज हुआ था। और जुलाई-2018 में अंसार पर सरकारी कर्मचारी पर हमला करने व सरकारी काम मे बाधा उत्पन्न डकरने के मामले में भी प्राथिमिकी दर्ज हुई थी। बंगाल से आकर दिल्ली की जहाँगीरपुरी के C-ब्लॉक में रहने वाले अंसार का इस क्षेत्र में काफ़ी दबदबा है। (Delhi violence accused Ansar has illegal business)Delhi violence accused Ansar has illegal business

बताया जा रहा है कि समय के साथ जैसे जैसे अंसार का क्रिमिनल रिकॉर्ड आगे बढ़ता गया वैसे वैसे ही उसकी इस क्षेत्र में आपराधिक गतिविधियां बढ़ती गयी। अंसार की प्राम्भिक आपराधिक गतिविधियां अवैध पार्किंग से उगाही, सट्टा और नशे के धंधे से बढ़ती गई। दिल्ली पुलिस का कहना है कि “इन अवैध धंधों से उसकी हर महीने लाखों रुपये की कमाई होती है।”लेकिन दिल्ली पुलिस अंसार की बैंक डिटेल के स्टेटमेंट्स को भी खंगाल रही है।

Delhi violence accused Ansar has illegal business
वहीं दिल्ली पुलिस को यह भी शक है कि हिंसा से पहले अंसार को कहीं से फंडिंग की गई है। दिल्ली पुलिस के अनुसार अंसार को पहले से पता था कि जहाँगीरपुरी C-ब्लॉक में शोभायात्रा निकलने वाली है, इसलिये अंसार की हरकत को एक गहरी साजिश के तौर पर भी देखा जा रहा है। (Delhi violence accused Ansar has illegal business)Delhi violence accused Ansar has illegal business

हिंसा के बाद अंसार ही वह पहला व्यक्ति है जिसका FIR में सब से पहले नाम आया था। इसलिये दिल्ली पुलिस ने उसे मुख्य आरोपी बताते हुए FIR उसका नाम दिया और लिखा कि अंसार ने ही सब से पहले C-ब्लॉक मस्जिद के सामने शोभायात्रा में व्यवधान डाला था और यात्रा में शामिल कुछ लोगों से बहस की थी। (Delhi violence accused Ansar has illegal business)

रिपोर्ट : फ़रहाद पुण्डीर (फ़रमात)

Farhad Pundir,Farmat
रिपोर्ट : फ़रहाद पुण्डीर (फ़रमात)

यह भी पढ़ें- क्या चल पायेगा यूपी में 3 अवैध मन्दिरों पर भी बुलडोजर? कानपुर नगर निगम ने 3 मन्दिरों को अवैध बताते हुए जारी किया नोटिसKanpur MC’s notice to 3 illegal temples

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]