कुत्तों ने किया भेड़ों के समूह पर हमला 63 भेड़ों की हुई मौत,डीजे की आवाज़ में दबकर रह गई भेड़ों की चींखें-Dogs attacked sheep in Karnal

कुत्तों ने किया भेड़ों के समूह पर हमला 63 भेड़ों की हुई मौत,डीजे की आवाज़ में दबकर रह गई भेड़ों की चींखें-Dogs attacked sheep in Karnal

हरियाणा: 
करनाल के कलरी नन्हेड़ा गाँव में खूँखार कुत्तों ने भेड़ों के बाड़े पर हमला करके 63 भेड़ों को मार दिया है। भेड़ों के बाड़े के नज़दीक शादी हो रही शादी में डीजे की आवाज़ में भेड़ों की चीख़ पुकारें दबकर रह गई। इस दौरान कुत्तों ने 75 भेड़ों को बुरी तरह से ज़ख्मी किया जिसमें से 63 भेड़ों की मौक़े पर ही मौत हो गई जबकि बाक़ी की हालत नाज़ुक है। कुत्तों द्वारा किये गए इस हमले के बाद गाँव में कुत्तों की दहशत का माहौल बन गया है।

जानकारी के अनुसार यें भेड़ें कलरी नन्हेड़ा गाँव में बंसीलाल और उसके भाई सुखराज की थी। जिस समय खूँखार कुत्ते भेड़ों के बाड़े में घुसकर भेड़ों को मार रहे थे उस समय बाड़े के नज़दीक एक विवाह समारोह में पूरी आवाज़ के साथ डीजे बज रहा था। जब भेड़ों के मालिक बंसीलाल घर से खाना खाकर वापस आया तो बाड़े का ख़ूनी मन्ज़र देखकर तो बंसीलाल के पैरों के तले से ज़मीन खिसक गई। (Dogs attacked sheep in Karnal)Dogs attacked sheep in Karnal

घटना की सूचना पर इंद्री के पशु पालन विभाग के डॉक्टरों की एक टीम घटनास्थल पर पहुंची और भेड़ों का मुआयना कर पोस्टमार्टम कराने की प्रक्रिया पूरी की गई। मृत भेड़ों के पोस्टमार्टम के बाद उन्हें गाँव से दूर एक गड्ढे में दबा दिया गया है। इस संबंध में ग्रामीणों ने बताया कि “बंसीलाल और उसके भाई सुखराम ने एक किसान से ब्याज पर पैसा लेकर यें भेड़ें पाली हुई थी लेकिन कुत्तों के हमले में भेड़ों के मारे जाने से इनका परिवार के सामने आर्थिक संकट की स्थिति आ गई है। वहीं पशु पालन अधिकारी ने बताया कि पोस्टमार्टम कर अग्रिम कार्यवाही के लिए उन्होंने रिपोर्ट बनाकर ज़िला उपायुक्त को भेज दी है ताकि पीड़ित परिवार को कुछ आर्थिक मदद मिल सके। (Dogs attacked sheep in Karnal)

यह भी पढ़ें-सकारात्मक पहल: दलित दूल्हे की बारात का राजपूत समाज ने किया स्वागत,खुद निकलवायी बिंदौरी (घुड़चढ़ी)Rajasthan Kekdi Bilia Village

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]