Egypt 4 Year Old Boy So Called Killer: मिस्र में 4 साल के बच्चे को कोर्ट ने दी 4 लोगों की हत्या करने और 8 लोगों को जान से मारने के प्रयास में उम्रक़ैद की सज़ा

Egypt 4 Year Old Boy So Called Killer: मिस्र में 4 साल के बच्चे को कोर्ट ने दी 4 लोगों की हत्या करने और 8 लोगों को जान से मारने के प्रयास में उम्रक़ैद की सज़ा

 

 

Egypt 4 Year Old Boy So Called Kille: आमतौर पर बच्चों से जब कोई ग़लती अथवा अपराध होता है तो उन्हें सज़ा देने के बजाये बाल सुधार गृह जाता है। लेकिन आज हम आपको एक ऐसे मात्र 4 वर्षीय छोटे से बच्चे के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे अदालत ने कई हत्याओं के आरोप में उम्रक़ैद की सज़ा सुनायी गयी।Egypt 4 Year Old Boy So Called Killer

यह हैरान कर देने वाला वाक़या है सामने आया है मिस्त्र जहाँ लगभग कुछ समय पहले 4 वर्ष के बच्चे मंसूर कुरानी अली पर अदालत ने हत्या करने सहित कई संगीन आरोप में उम्रक़ैद की सज़ा सुनायी गयी थी। मीडिया रिपोर्ट्स अनुसार इस 4 वर्षीय छोटे से बच्चे पर 4 लोगों की हत्या करने व 8 लोगों को जान से मारने के प्रयास का दोषी क़रार देते हुए उम्रक़ैद की सज़ा सुनायी गयी। अब इस प्रकरण के प्रकाश में आने के बाद पूरे देश में अदालत के इस फ़ैसले का विरोध हो रहा है। (Egypt 4 Year Old Boy So Called Killer)

मीडिया रिपोर्ट्स अनुसार जहाँ मिस्र के लोग छोटे बच्चे को उम्रक़ैद की सज़ा दिये जाने के विरोध में सड़को पर उतर आये तो वहीं सोशल मीडिया पर भी इस घटना की ख़ूब निन्दा की गयी। घटना के लगभग एक वर्ष बाद जब दुनिया के सामने यह ख़बर आयी तो अब पूरी दुनिया मिलकर मिस्त्र के क़ानून की खूब आलोचना हुई। दुनिया के इस विरोध के बाद अदालत ने इस घटना की दोबारा जाँच के आदेश दे दिये थे। (Egypt 4 Year Old Boy So Called Killer)

लेकिन अब मामले की जाँच के बाद जो सच्चाई सामने आयी तो सभी हैरान रह गये। क्योंकि जिन अपराधों के लिये 4 साल के बच्चे मंसूर को दोषी ठहराकर जेल में डाला हुआ था हक़ीक़त में वे सभी आरोप झूठे निकले। दरअसल बच्चे मंसूर के विरुद्ध जो भी आरोप लगे थे, उनकी जाँच किये बग़ैर ही अदालत द्वारा सज़ा दे दी गयी थी। (Egypt 4 Year Old Boy So Called Killer)

आपको बता दें कि मिस्र में बच्चे मंसूर को अदालत ने वर्ष-2014 में मिस्र में हुए एक दंगे में भाग लेने के लिये 115 लोगों के साथ इस 4 वर्षीय बच्चे को भेज दोषी बनाया गया था। लेकिन बाद में इस घटना की वास्तविक जाँच होने पर बच्चा बेकसूर पाया गया। अदालत ने अपनी ग़लती पर बच्चे मंसूर के पिता से माफ़ी की मांग की है। (Egypt 4 Year Old Boy So Called Killer)
यह भी पढ़ें- जमीयत उलेमा-ए-हिन्द के अध्यक्ष अरशद मदनी ने कहा कि को-एजुकेशन मुस्लिम लड़कियों को धर्मत्याग की ओर ले जा रही है, इस साजिश को रोकना होगाDarul Uloom Against Co-Education

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]