Etah News: फुटपाथ पर रेडीमेड कपड़े बेचने वाले साधारण से आदमी के साथ 24 घण्टे रहते हैं 2 गनर तैनात, जानिये क्या है वजह?

Etah News: फुटपाथ पर रेडीमेड कपड़े बेचने वाले साधारण से आदमी के साथ 24 घण्टे रहते हैं 2 गनर तैनात, जानिये क्या है वजह?

एटा,यूपी: Etah News
आजकल इंटरनेट के आधुनिक दौर में सोशल मीडिया पर भी एक से एक हैरतअंगेज़ और कौतूहलों से परिपूर्ण घटनायें वायरल होती रहती हैं। कुछ ऐसी ही एक ख़बर वायरल हो रही है उत्तर प्रदेश के एटा ज़िले से। यहाँ एक ठेली पर रेडीमेड कपड़े बेचने वाले एक साधारण से दिखते वाले व्यक्ति की सुरक्षा में 24 घण्टे दो गनर बॉडीगार्ड्स तैनात रहते हैं।

फुटपाथ पर ठेली लगाकर कपड़े बेचता है व्यक्ति-
तस्वीर में आप देख सकते हैं कि एक व्यक्ति फुटपाथ पर ठेली लगाकर रेडीमेड कपड़े बेच रहा है, और इसके पीछे दो पुलिस कर्मी खड़े हैं जो इसकी सुरक्षा में लगे हैं। संभवतः जब 24 घण्टे इस व्यक्ति के साथ दो-दो सुरक्षागार्डस रहते हैं तो इसकी जान को ख़तरा ही होगा। (Etah News)

कारण कुछ भी हो लेकिन इस मन्ज़र को देखकर लोग विशेषकर इसलिये हैरान होते हैं कि नेताओं, अभिनेताओं और बड़े बड़े बिजनेसमैन को तो इस प्रकार सुरक्षा उपलब्ध होना एक साधारण सी बात है लेकिन एक साधारण से ठेले पर रेडीमेड कपड़े बेचने वाले आम से आदमी को आख़िर इस प्रकार की सुरक्षा उपलब्ध होने का मतलब और कारण क्या है? (Etah News)

Etah News

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार उत्तर प्रदेश के एटा ज़िले के जैथरा निवासी रामेश्वर दयाल नाम के एक व्यक्ति जो सड़क किनारे फुटपाथ पर ठेली पर रेडीमेड कपड़े बेचता है, उसे कोर्ट के आदेश पर सुरक्षा की दृष्टि से ज़िला प्रशासन द्वारा दो गनर उपलब्ध कराये हुए हैं। यें गनर हर समय इनके साथ रहते हैं।

जानते हैं क्यों मिले हुए हैं इस ठेली वाले को गनर?
प्राप्त जानकारी के अनुसार विगत 3 जून को इस रामेश्वर दयाल ने एक मामला दर्ज करवाया था जिसमें इसने पूर्व विधायक और पूर्व लेखपाल सहित कुछ अन्य नेताओं व कुछ दबंग लोगों पर ज़बरदस्ती ज़मीन का बैनामा कराने का आरोप लगाया था। (Etah News)

 

रामेश्वर दयाल की शिकायत के अनुसार वर्ष-2010 से 2014 के बीच उस से इन दबंग लोगों द्वारा कई बार ज़बरन बैनामा करवाया गया। ये ही नहीं बल्कि इन दबंगों ने उसे बंधक बनाकर जाति सूचक गालियां भी दीं। इसके अलावा इन आरोपियों ने रामेश्वर दयाल द्वारा द्वारा दर्ज कराये गये मुकदमे को झूठा बताकर मुक़दमे को ख़ारिज करने की याचिका डाली थी। इसके बाद इसके कोर्ट की सुनवाई के लिये कोर्ट ने रामेश्वर दयाल को बुलाया था।

कोर्ट: बिना सुरक्षा के पीड़ित कोर्ट तक कैसे आ गया?
कोर्ट में सुनवायी के दौरान पीड़ित (रामेश्वर दयाल) को बिना सुरक्षा के देखकर जज ने आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा कि “वह (पीड़ित, रामेश्वर) बिना सुरक्षा के यहाँ कोर्ट तक कैसे आ गया?” तभी जज ने पुलिस से सवाल किया कि “पीड़ित को सुरक्षा क्यों नहीं दी गयी है.? (Etah News)

कोर्ट के आदेश के बाद पीड़ित को दी पुलिस ने सुरक्षा-
जज के पीड़ित को सुरक्षा दिये जाने के आदेश के बाद फ़िर SSP ने पीड़ित रामेश्वर दयाल को 2 गनर उपलब्ध कराये। जब दोनों गनर रामेश्वर दयाल के ठेली पर ड्यूटी पर आये तो रामेश्वर दयाल ने समझा कि वे लोग भी शायद कपड़े ख़रीदने आये हों? लेकिन इन सुरक्षा गार्डों ने बताया कि वे कपड़े ख़रीदने नहीं बल्कि उसकी सुरक्षा के लिये आये हैं। (Etah News)
यह भी पढ़ें- नीट परीक्षा देने गई छात्रा को किया गया अंडरवियर उतारने पर मजबूर,भला ऐसे सिस्टम में कौन माँ-बाप भेजेगा लड़कियों को परीक्षा देने?KERALA NEET UG Exam
देश दुनिया टुडे के व्हाट्सएप्प ग्रुप से जुड़ने के लिये इस लिंक पर क्लिक करें।

 

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]