Firozabad News1: देखिये यूपी पुलिस का एक सिपाही कैसे मेस के खाने की गुणवत्ता को लेकर फूट फूटकर रो रहा है, अखिलेश यादव ने शेयर किया वीडियो

Firozabad News: देखिये यूपी पुलिस का एक सिपाही कैसे मेस के खाने की गुणवत्ता को लेकर फूट फूटकर रो रहा है, अखिलेश यादव ने शेयर किया वीडियो

फ़िरोज़ाबाद, यूपी: Firozabad News
एक बड़ी ख़बर यूपी के फ़िरोज़ाबाद जनपद से जहाँ एक सिपाही द्वारा पुलिस लाईन के मेस में खाने की गुणवत्ता को लेकर सवाल उठाते हुए सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल करने वाले सिपाही को 5 दिनों की छुट्टी पर भेज दिया गया है। सिपाही मनोज कुमार द्वारा लगाये गये मेस के खाने की गुणवत्ता में कथित कमी के आरोप की सच्चाई की जाँच सीओ लाईन हीरालाल कनौजिया द्वारा शुरु कर दी है।

Firozabad News

 

बता दें कि बुधवार को फ़िरोज़ाबाद सम्मन सेल में तैनात एक सिपाही मनोज कुमार का एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें सिपाही फूट-फूटकर रोते हुए पुलिस लाईन के मेस के खाने की गुणवत्ता पर सवालिया निशान लगाते दिख रहे हैं। वायरल वीडियो में देखा जा सकता है कि सिपाही हाथ में लेकर रोटी दिखाते हुए कह रहा था कि, मैं ये ऐसा खाना कैसे खऊँ? (Firozabad News)

उधर सिपाही के आरोपों को एसएसपी फ़िरोज़ाबाद आशीष तिवारी ने गम्भीरता से लेते हुए इसकी जाँच सीओ लाईन हीरालाल कनौजिया को सौंप दी है। ताकि सिपाही के आरोप की वस्तुस्थिति का पता लगाया जा सके। वहीं खाने की घटिया क्वालिटी का आरोप लगाने वाले सिपाही मनोज कुमार को विभाग ने 5 दिनों की छुट्टी पर भेज दिया है।

Firozabad News

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सिपाही के छुट्टी पर जाने के मामले में प्रतिसार निरीक्षक देवेन्द्र सिंह सिकरवार का कहना है कि “सिपाही मनोज कुमार 5 दिनों के अवकाश की अर्जी लेकर एस.पी ग्रामीण के पास पहुँचा था। जिसके बाद उसका 5 दिनों का अवकाश स्वीकृत हो गया है। फ़िलहाल सिपाही अपने घर छुट्टी पर गया हुआ है। (Firozabad News)

मीडिया रिपोर्ट्स में सिपाही मनोज कुमार के हवाले बताया जा रहा है कि “वें 15 बिन्दु जिन पर पुलिस विभाग कार्यवाही की बात कर रहा है, उस में सिर्फ़ अनुपस्थिति कारण बताया जा रहा है, जबकि उसने जब भी छुट्टी ली है, बताकर ही ली है। लेकिन अब, जब उसने खाने की गुणवत्ता मीडिया के सामने ला दी तो विभाग उल्टा उन्ही को अनुशासनहीन बताते हुए निशाना पर ले रहा है। (Firozabad News)

वहीं सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने भी सिपाही की वीडियो को ट्वीटर पर डालते हुए कैप्शन में लिखा कि “अमृत महोत्सव के छद्म उत्सव के शोर शराबे में भूख़ से रोते यूपी के पुलिस वाले की बात सुनने वाला कोई है क्या..? “महोत्सव के नाम पर भूखोत्सव क्यों?
यह भी पढ़ें- ग़ाज़ियाबाद में प्रेमी की गला रेतकर हत्या करने वाली महिला निकली सहारनपुर की, अब तक 3 पतियों को छोड़ चुकी हैGHAZIABAD CRIME

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]