Ghulam Nabi Azad के समर्थन में काँग्रेस के 5 विधायकों ने भी स्तीफा दिया, सलमान ख़ुर्शीद, अशोक गहलोत और मल्लिकार्जुन खड़गे बोले- यह सब ठीक नहीं हुआ

Ghulam Nabi Azad के समर्थन में काँग्रेस के 5 विधायकों ने भी स्तीफा दिया, सलमान ख़ुर्शीद, अशोक गहलोत और मल्लिकार्जुन खड़गे बोले- यह सब ठीक नहीं हुआ

नई दिल्ली: Ghulam Nabi Azad-
देश की सियासत में बड़ा रुतबा रखने वाले पूर्व केन्द्रीय मन्त्री व राज्यसभा सांसद ग़ुलाम नबी आज़ाद ने आख़िर आज काँग्रेस पार्टी पार्टी को अलविदा कह दिया है। उन्होंने काँग्रेस पार्टी नेतृत्व को लेकर राहुल गाँधी पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा है कि “जब से पार्टी की कमान राहुल गाँधी के हाथ में आयी है, तब से काँग्रेस पार्टी को बहुत नुकसान हो रहा है।

मल्लिकार्जुन खडके की प्रतिक्रिया-
वहीं ग़ुलाम नबी आज़ाद (Ghulam Nabi Azad) द्वारा काँग्रेस पार्टी छोड़ने पर गाँधी परिवार के क़रीबी माने जाने वाले मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि “मैं इस उनके इस फ़ैसले से दु:खी हूँ, उन्‍हें अपने फ़ैसले पर पुनर्विचार करना चाहिये।” ग़ुलाम नबी आज़ाद के राहुल गाँधी पर हमले को लेकर मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा “राहुल गाँधी पर इस तरह से हमला करना सही नहीं है, क्‍योंकि आप उस परिवार के सभी सदस्यों को व्यक्तिगत रूप से जानते हैं। सोनिया गाँधी ने हमेशा आपसे सलाह ली है, आप CWC की बैठकों व कोर कमेटी की बैठकों का भी हिस्सा रहे।”

मल्लिकार्जुन खड़गे ने ग़ुलाम नबी आज़ाद (Ghulam Nabi Azad) पर हमलावर होते हुए कहा कि “जब आप खुद हर चीज़ का हिस्सा बनकर निर्णय लेते हैं, तो यह कहना सही नहीं है कि ‘पार्टी अच्छी तरह से काम नहीं कर रही है.. यह उसे शोभा नहीं देता। यह उनके लिये एक नुकसान होगा, क्योंकि हमारी RSS के विरुद्ध लड़ाई में वह हमारे साथ नहीं हैं। मैं दु:खी हूँ और उन्हें अपने फ़ैसले पर पुनर्विचार करना चाहिये।”

सलमान खुर्शीद की प्रतिक्रिया-
वहीं ग़ुलाम नबी आज़ाद (Ghulam Nabi Azad) पर काँग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केन्द्रीय मन्त्री मसलमान खुर्शीद ने कहा कि ग़ुलाम नबी आज़ाद के जाने से पार्टी को बड़ा राजनीतिक नुकसान हुआ है।” उन्होंने कहा कि “आज काँग्रेस पार्टी एक जंग के मैदान में खड़ी है.. हमारा कोई सिपाही या कमांडर छोड़कर जाता है, तो उसका सीधा असर हम पर पड़ता है। काँग्रेस पार्टी के समर्थन में खड़े रहने वाले हर व्यक्ति पर इसका सीधा असर पड़ता है।” उन्होंने कहा “कहानी ये नहीं है कि वे गये..बल्कि कहानी यह है की हम नहीं जा रहे हैं।”

अशोक गहलोत की प्रतिक्रिया-
वहीं राजस्थान के मुख्यममन्त्री अशोक गहलोत ने इस मुद्दे पर ग़ुलाम नबी आज़ाद (Ghulam Nabi Azad) को उनका राजनीतिक कैरियर की याद दिलाते हुए कहा कि “संजय गाँधी के विश्वास की बदौलत ही ग़ुलाम नबी आज़ाद को काँग्रेस पार्टी में प्रतिष्ठा हासिल हुई थी।”

जयराम रमेश की प्रतिक्रिया-
वहीं काँग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने सीधे तौर पर ग़ुलाम नबी आज़ाद पर आरोप लगाते हुए कहा कि “वे भाजपा के इशारे पर यह सब काम कर रहे हैं।”

ग़ुलाम नबी के साथ 5 विधायकों ने भी छोड़ी पार्टी-
वहीं ग़ुलाम नबी आज़ाद (Ghulam Nabi Azad) के काँग्रेस पार्टी छोड़ने के साथ ही जम्मू कश्मीर में 5 काँग्रेसी विधायकों ने भी पार्टी छोड़ दी है। इनमें जीएम. सरूरी, मोहम्मद अमीन भट, हाजी अब्दुल राशिद, चौधरी मोहम्मद अकरम और गुलज़ार अहमद वानी शामिल हैं।
यह भी पढ़ें- विराट कोहली के साथ पाकिस्तान से सेल्फ़ी लेने Asia Cup-2022 सिरीज़ के दौरान दुबई तक जा पहुँचा एक फैनPakistani fan of Virat Kohli

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]