एक गुजराती गैंग लीडर गर्ल जिसने दूसरे स्टेट में बैठकर अपनी मीठी आवाज़ में फँसाकर 250 अमेरिकन लोगों को ठगा- Gujarati fraud girl cheated 250 American people sitting in Gwalior

ग्वालियर (म.प्र): Gujarati fraud girl cheated 250 American people sitting in Gwalior
क्राइम ब्राँच ने एक ऐसे गैंग को पकड़ा है जिसकी सरगना एक गुजराती लड़की है और वह सिर्फ़ अमेरिकन लोगों को ही ठगती थी। यह लेडी डॉन ग्वालियर में रखकर अपना एक गैंग बनाकर एक फेक कॉल सेंटर चला रही थी। 22 वर्षीय मोनिका ZOOM ऐप के ज़रिये लोन देने के नाम पर VIDEO कॉल किया करती थी। और अपना कमीशन इंटरनेशनल गिफ़्ट वाउचर के रूप में लेती थी। यह वाउचर उसके साथी शॉपिंग में कैश करा लेते थे।

पुलिस ने उसके 6 साथियों को भी अरेस्ट किया है। गैंग के मेंबर खुद को लैंडिंग क्लब अमेरिकन कम्पनी का एजेंट बताते हुए लोन दिलवाने का झांसा देते थे। वैसे तो गैंग में 7 सदस्य हैं लेकिन 22 साल की मोनिका का मुख्य रोल होता था। वह अपनी मधुर आवाज़ और मासूम चेहरे से विशेषकर अमेरिकन लोगों को इम्प्रेस कर लेती थी। अब तक 250 अमेरिकंस को ठगने के केस सामने आ चुके हैं। लेकिन अभी यह संख्या बढ़ भी सकती है। Gujarati fraud girl cheated 250 American people sitting in Gwalior(Gujarati fraud girl cheated 250 American people sitting in Gwalior)

एसएसपी ग्वालियर अमित सांघी को बहोड़ापुर के आनन्द नगर के एक मकान में फ्रॉड इंटरनेशनल कॉल सेंटर चलने की शिकायत मिली थी। जाँच ASP क्राइम राजेश दंडोतिया को सौंपी गई। उन्होंने क्राइम ब्रांच के एक सदस्य को उस ठिकाने पर तस्दीक के लिए भेजा। मामला सही पाया गया तो क्राइम ब्रांच की टीम पहुंची। जब पुलिस मकान के अंदर पहुँची तो ठग लैपटॉप और मोबाइल फ़ोन्स के ज़रिये अमेरिकन लोगों से बात करते हुए मिले।

लैपटॉप, मोबाइल, रजिस्टर ज़ब्त किये-
पुलिस ने लैपटॉप, मोबाइल, रजिस्टर व अन्य सामान भी जब्त किया है। कॉल सेंटर का संचालन अहमदाबाद (गुजरात) में रहने वाला मास्टरमाइंड अपने सहायक के साथ मिलकर करता है। उसने यह मकान कॉल सेंटर के लिए किराए पर लिया था। पुलिस ने धोखाधड़ी और IT एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। Gujarati fraud girl cheated 250 American people sitting in Gwalior(Gujarati fraud girl cheated 250 American people sitting in Gwalior)

इस तरह करते थे ठगी-
ठगों की गैंग ZOOM ऐप सॉफ्टवेयर के जरिए खुद को लैंडिंग क्लब अमेरिकन कंपनी का एजेंट बताकर US के नागरिकों से बात करते थे। मोनिका VIDEO कॉल के जरिए उनको जाल में फंसाती थी। ठगों ने बताया कि कॉल सेंटर संचालक हमें विदेशी लोगों के कॉन्टैक्ट नंबर उपलब्ध कराता था, फिर वे लोग विदेशी लोगों से लोन दिलवाने का झांसा देकर उनका सिक्योरिटी नंबर और बैंकिंग डिटेल लेते थे। (Gujarati fraud girl cheated 250 American people sitting in Gwalior)

उसको वेरिफाई करने के नाम पर उनसे कमीशन के रूप में इंटरनेशनल गिफ्ट वाउचर (जैसे गूगल प्ले कार्ड, अमेरिकन एक्सप्रेस, बेस्ट बाई, एप्पल, बनीला वीजा आदि) ले लिया करते थे। इन गिफ्ट वाउचर को गिरोह का मास्टरमाइंड शॉपिंग के जरिए कैश में बदल लेता था। हमारे टारगेट पर सिर्फ़ विदेशी और विशेषकर अमेरिकन लोग होते थे। (Gujarati fraud girl cheated 250 American people sitting in Gwalior)

यह भी पढ़ें- पाकिस्तान: इमरान ख़ान ने सदन में खोया विश्वास, अविश्वास प्रस्ताव के ज़रिये पद से हटने वाले पहले प्रधानमंत्री बने इमरान ख़ानPak PM Imran Khan lost his confidence in the House of Assembly voting

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]