Gyanvapi Case: ज्ञानवापी मामले से हटाये गये हिन्दू पक्ष के 2 वकील, ज्ञानवापी के पैरोकार जितेंद्र सिंह बिसेन का चौंकाना वाला निर्णय

Gyanvapi Case: ज्ञानवापी मामले से हटाये गये हिन्दू पक्ष के 2 वकील, ज्ञानवापी के पैरोकार जितेंद्र सिंह बिसेन का चौंकाना वाला निर्णय

 

Gyanvapi Case: ज्ञानवापी मामले में अब हिन्दू पक्ष को लेकर एक बड़ी ख़बर सामने आई है। दरअसल इस केस में हिन्दू पक्षकारों में शामिल हरिशंकर जैन व विष्णु शंकर जैन को ज्ञानवापी के सभी मुक़दमों से हटाने का ऐलान कर दिया गया है। ज्ञानवापी केस की क़ानूनी गतिविधियों पर नज़र रख रही रही संस्था ‘विश्व वैदिक सनातन संघ’ के प्रमुख जितेंद्र सिंह बिसेन ने यह ऐलान किया है। कहा जा रहा है कि ज्ञानवापी मामले से संबंधित हुए सर्वे के वीडियो और फोटो लीक होने के बाद यह निर्णय लिया गया है। (Gyanvapi Case)

इस पर क्या बोले जितेंद्र सिंह बिसेन-
इस संबंध में जितेंद्र सिंह बिसेन ने कहा कि “ज्ञानवापी के हर मुक़दमे से हरिशंकर जैन व विष्णु शंकर जैन को हटाने का निर्णय लिया है, और यह निर्णय ज़िला अदालत से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक के सभी मामलों में लागू होगा।” उन्होंने कहा कि “सभी मुक़दमों में लगे हरिशंकर जैन व विष्णु शंकर जैन के वकालतनामे को भी निरस्त किया जायेगा।” (Gyanvapi Case)

जानिये इस पर हरिशंकर जैन क्या बोले-
इस संबंध में हरिशंकर जैन का कहना है कि “यह कहना ग़लत है कि मुक़दमे से नाम हट गया है, हर मुक़दमे में 05-07 याचिकाकर्ताओं में से 01 हट जाता है तो इस केस में असर नहीं पड़ता है। हर व्यक्ति को अधिकार है कि यह अपना वकील कर सकता है। उस से मेरे केस और मेरी स्थिति पर कोई फ़र्क़ नहीं पड़ेगा वह (जितेंद्र सिंह बिसेन) हिन्दुत्व मामले के केस में हमारे सहयोगी थे। और सहयोगी तो आते और जाते हैं। उस से इस केस पर कोई असर नहीं पड़ता है। वह पार्टी में भी नहीं हैं, बाक़ी अगर कोई बाहर जाता है तो हमारी स्थिति में कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता है।” (Gyanvapi Case)

हरिशंकर जैन का कहना है कि “इस बात से केस में कोई फ़र्क़ नहीं पड़ेगा, हिन्दु आन्दोलन को कोई फ़र्क़ नहीं पड़ेगा। यह भ्रम फ़ैलाया जा रहा है। मैं चाहता हूँ जनता इस भ्रम में न पड़े, किसी बात को दिमाग़ में बैठा लिया गया है तो मैं उसे निकाल नहीं सकता हूँ। वादी राखी सिंह जितेंद्र सिंह की भतीजी हैं, अपनी महत्वाकांक्षा के लिये हर व्यक्ति स्वतन्त्र है। इस में कोई बड़ी बात नहीं है। इस में हिन्दुत्व का आन्दोलन कहीं भी कमज़ोर नहीं पड़ने जा रहा है।” (Gyanvapi Case)

यह भी पढ़ें- एक भारतीय को दुबई में रहकर मुस्लिम विरोधी पोस्ट करना पड़ा भारी, अब अपने भारत आने के लिये भी तरस रहा है

Anti Muslim Post Case In Dubai: एक भारतीय को दुबई में रहकर मुस्लिम विरोधी पोस्ट करना पड़ा भारी, अब अपने भारत आने के लिये भी तरस रहा है

देश दुनिया की बड़ी ख़बरों से अपडेट के लिए व्हाट्सएप्प ग्रुप से जुड़ने हेतु यहाँ क्लिक करें।

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]