Haridwar Loudspeaker Azaan Matter: हरिद्वार में 7 मस्जिदों पर लाउडस्पीकर में अजान देने पर 5-5 हज़ार रुपये का जुर्माना, मुस्लिम धर्म गुरुओं ने कहा थोड़ी देर की अजान से परेशानी शादियों के DJ से नहीं

Haridwar Loudspeaker Azaan Matter: हरिद्वार में 7 मस्जिदों पर लाउडस्पीकर में अजान देने पर 5-5 हज़ार रुपये का जुर्माना, मुस्लिम धर्म गुरुओं ने कहा थोड़ी देर की अजान से परेशानी शादियों के DJ से नहीं

 

 

हरिद्वार: Haridwar Loudspeaker Azaan Matter- उत्तराखण्ड के हरिद्वार में ज़िला प्रशासन ने 7 मस्जिदों पर लाउडस्पीकर में अज़ान देने पर 5-5 हज़ार रुपये का जुर्माना लगाया है। मीडिया रिपोर्ट्स अनुसार हरिद्वार के पथरी थानाक्षेत्र के कईं गाँवों की मस्जिदों को लाउडस्पीकरों में को कम आवाज़ में आदेश दिया गया था, लेकिन मस्जिदों के लाउडस्पीकर की आवाज़ कम नहीं की गयी, जिसके बाद यह कार्यवाही की गयी।Haridwar Loudspeaker Azaan Matter

हरिद्वार की पथरी थाना पुलिस और प्रदूषण नियन्त्रण बोर्ड की रिपोर्ट के आधार पर SDM पूरन सिंह राणा ने यह कार्यवाही करते हुए कुल 7 मस्जिदों पर 5- हज़ार रुपये का जुर्माना लगाया गया है। इनके अलावा भी अन्य कईं मस्जिदों को ध्वनि कम करने के लिये प्रशासन द्वारा चेतावनी जारी की गयी है। (Haridwar Loudspeaker Azaan Matter)

SDM पूरन सिंह राणा के अनुसार उनके पास कुछ धार्मिक स्थलों पर ध्वनि प्रदूषण को लेकर शिकायतें आ रही थी, जबकि हाईकोर्ट का आदेश है कि ध्वनि प्रदूषण नहीं होना चाहिये। और बिना अनुमति किसी भी धार्मिक स्थल और वैवाहिक स्थलों पर लाउडस्पीकर सिस्टम नहीं लगाया जायेगा। और जिन धार्मिक स्थलों को अनुमति दी गयी है, प्रशासन की उन पर भी नज़र है। (Haridwar Loudspeaker Azaan Matter)

मीडिया रिपोर्ट्स अनुसार वहीं इस मामले पर मस्जिद के प्रबन्धक मोहम्मद आरिफ़ ने कहा कि सभी थानाक्षेत्रों में हिन्दू और मुस्लिम समुदाय के लोगों के साथ पुलिस ने बैठक की थी कि मस्जिद व मन्दिरों पर लगे लाउडस्पीकर की आवाज़ कम होनी चाहिये, सही बात है लेकिन क्या अजान से ही प्रदूषण फ़ैल रहा है? शादियों में इतनी तेज़ ध्वनि के साथ डीजे बजते हैं, पुलिस प्रशासन इन पर कोई कार्यवाही क्यों करता? (Haridwar Loudspeaker Azaan Matter)
यह भी पढ़ें- देश में मुस्लिमों पर बढ़ते अत्याचार पर JDU नेता ने की SC/ST ACT की तरह Muslim ACT बनाने की माँगJDU Leader Demanded Muslim Act

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]