जानिये क्या वर्ष-1996 में नोटों पर अशोक स्तम्भ के स्थान महात्मा गाँधी की तस्वीर लगायी गयी थी? Hindi News

जानिये क्या वर्ष-1996 में नोटों पर अशोक स्तम्भ के स्थान महात्मा गाँधी की तस्वीर लगायी गयी थी? Hindi News, Desh Duniya Today

नई दिल्ली: Hindi News
आजकल सोशल मीडिया पर पुराने नोटों की कुछ फोटोज़ वायरल हो रही हैं। जिसमें यह दावा किया जा रहा है कि ” महात्मा गाँधी की तस्वीर वाले नोटों को वर्ष-1996 के बाद से देश के ऊपर थोपा गया है। और वर्ष-1996 से पूर्व भारतीय नोटों पर महात्मा गाँधी की जगह अशोक स्तम्भ चिह्न हुआ करता था।” इन वायरल हो रहीं तस्वीरों में एक रुपये से लेकर 100 रुपये तक के मुच्छ नोट दिखाये गये हैं और इन नोटों पर राष्ट्रपिता महात्मा की जगह अशोक स्तम्भ के चिह्न लगा हुआ है। (Hindi News, Desh Duniya Today)

इण्डिया टुडे की एक रिपोर्ट के अनुसार इस वायरल फ़ोटो में किये गये इस दावे को भ्रामक बताया गया है। दरअसल भारतीय नोटों पर राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी की तस्वीर वर्ष-1996 से बहुत पहले ही छपने लगी थी और महात्मा गाँधी की प्रचलित फोटो ने अशोक स्तम्भ का स्थान नहीं लिया है। इण्डिया टुडे ने अपनी जाँच में ‘न्यू इण्डियन एक्सप्रेस’ के वर्ष- 2018 के एक न्यूज़ आर्टिकल का हवाला देते हुए कहा कि “महात्मा गाँधी की यह तस्वीर पहली बार भारतीय नोटों पर वर्ष-1969 में छपी थी।” (Hindi News, Desh Duniya Today)

जानिये क्या वर्ष-1996 में नोटों पर अशोक स्तम्भ के स्थान महात्मा गाँधी की तस्वीर लगायी गयी थी? Hindi News, Today

RBI (भारतीय रिज़र्व बैंक’ द्वारा बनाये गये पुराने भारतीय नोटों के डिजिटल संग्रहालय में इस तथ्य की जाँच- पड़ताल करने पर पता चला कि देश के स्वतंत्र होने के बाद RBI ने वर्ष-1969 में महात्मा गाँधी की तस्वीर के साथ एक रुपये से 100 रुपये तक के नोट जारी किये थे, जिसको ‘महात्मा गाँधी शताब्दी अंक’ क़रार दिया गया था। एक रुपए के नोट के अतिरिक्त अन्य सभी भारतीय नोटों की पृष्ठभूमि में महात्मा गाँधी को सेवाग्राम आश्रम में बैठे हुए दर्शाया गया जबकि नोट के दूसरी ओर अशोक स्तम्भ के चिह्न की फोटो लगाई गई थी। (Hindi News, Desh Duniya Today)

इसके बाद महात्मा गाँधी की तस्वीर दूसरी बार वर्ष-1987 में भारतीय नोटों पर दिखायी दी। वर्ष-1987 में पहली RBI (भारतीय रिज़र्व बैंक) ने 500 रुपये के नोटों की शुरुआत की थी। लेकिन उस समय नोटों पर महात्मा गाँधी की तस्वीर वैसी नहीं थी जैसी कि आज के नोटों में दिखाई देती है। इसके बाद वर्ष-1996 में RBI ने महात्मा गाँधी की तस्वीर के साथ 500 रुपये और 1000 रुपये के नोट जारी किये थे जिन्हे 8 नवम्बर 2016 को लागू की गई नोटबन्दी में चलन से बाहर कर दिया गया था। (Hindi News, Desh Duniya Today)

वायरल फ़ोटो के ‘इण्डिया टुडे’ की जाँच-पड़ताल में यह सच सामने आया कि भारतीय नोटों पर छपी महात्मा गाँधी की तस्वीर से अशोक स्तम्भ की तस्वीर पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा है। जब वर्ष- 1980 में RBI ने नोटों का नया सेट जारी किया तो नोटों पर छपी अशोक स्तम्भ की तस्वीर को 5 रुपये के नोट के बीच में ख़िसका दिया गया था। (Hindi News, Desh Duniya Today)

यह भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश: भाजपा की सरकार न बनने की शर्त लगाकर अपनी बाइक हारे व्यक्ति को दी अखिलेश यादव ने नई बाइकAkhilesh Yadav gave a new bike to the person who lost the bike in bet

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]