Indore Pandit’s Ear Cut Off: एक व्यक्ति के बेटे का नहीं हो रहा था विवाह तो पिता ने पहले पण्डित से कराया हवन-पूजन, फ़िर पण्डित के काट दिये कान

Indore Pandit’s Ear Cut Off: एक व्यक्ति के बेटे का नहीं हो रहा था विवाह तो पिता ने पहले पण्डित से कराया हवन-पूजन फ़िर पण्डित के काट दिये कान

इंदौर,म.प्र: Indore Pandit’s Ear Cut Off- मध्यप्रदेश के इंदौर से एक बड़ी ही अजीब और हैरान कर देने वाली ख़बर सामने आयी है, यहाँ जब एक व्यक्ति के बेटे का विवाह ही नहीं हो पा रहा था तो व्यक्ति ने पहले तो पण्डित से हवन पूजा करायी, फ़िर पण्डित के कान दिये। पण्डित के साथ हुए इस जघन्य अपराध पर पुलिस ने मामला दर्ज लिया है, जबकि आरोपी घटना को अन्जाम देकर फ़रार हो गया है।

Indore Pandit's Ear Cut Off
सांकेतिक छवि

बता दें कि यह हैरान कर देने वाला मध्यप्रदेश के इंदौर जनपद के चन्द्रनगर थानाक्षेत्र का है। यहाँ के निवासी राधेश्याम नाम व्यक्ति के बेटे का विवाह ही नहीं हो पा रहा था, तो राधेश्याम को किसी ने राजस्थान के एक अरूण शर्मा नाम के एक पण्डित के बारे में बताया कि यदि वह पण्डित घर में आकर पूजा कर दे तो आपके (राधेश्याम) पुत्र का विवाह जल्द ही सम्भव हो जायेगा। (Indore Pandit’s Ear Cut Off)

राधेश्याम ने लोगों की इन बातों में आकर राजस्थान के पण्डित से सम्पर्क किया, और पण्डित जी को अपने घर पर हवन, पूजा करने के लिये बुला लिया। राधेश्याम ने पण्डित के निर्देशानुसार पूजा, पाठ और हवन कारया, जब हवन, पूजा सम्पन्न होने के बाद पण्डित जी अपने घर के जाने के लिये रवाना होने लगे अब आप बिलकुल निश्चिन्त हो जाइये, जल्द ही विवाह का शुभः योग बन जायेगा।

लेकिन बहुत दिन बीत जाने के बाद भी जब राधेश्याम के बेटे के लिये कोई रिश्ता नहीं आया तो राधेश्याम ने एक बार फ़िर से पण्डित अरुण शर्मा से सम्पर्क कर हवन, पूजा करवाने के लिये राजस्थान से इंदौर बुलाया। पण्डित जी भी पूजा कराने की तैयारी के साथ सब सामान लेकर राधेश्याम के घर आ गये, और हवन पूजन करने लगे। (Indore Pandit’s Ear Cut Off)

लेकिन इस दौरान राधेश्याम और पण्डित जी के बीच पूजा को लेकर उस समय विवाद हो गया जब राधेश्याम ने पण्डित से कहा कि उसकी पूजा तो झूठी है, पिछली पूजा कराने का कोई लाभ ही नहीं हुआ। लेकिन बातों-बातों में यह विवाद इतना बढ़ गया कि ग़ुस्साये राधेश्याम ने परिवार वालों के साथ मिलकर पण्डित जी के कान ही काट दिये।
न्यूज़ सोर्स- हिंदुस्तान
यह भी पढ़ें- इंडोनेशिया में फुटबॉल के मैदान में खेल के दौरान हुई हिंसा में 127 लोगों की मौत, सैकड़ों घायलIndonesia Football Field Violence

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]