Jaipur News: अजब ग़ज़ब: अदालत ने जब पुलिस से माँगे हत्या के सबूत तो पुलिस ने कहा सबूत तो बन्दर ले गया

  • Jaipur News: अजब ग़ज़ब: अदालत ने जब पुलिस से माँगे हत्या के सबूत तो पुलिस ने कहा सबूत तो बन्दर ले गये

राजस्थान : (Jaipur News)
जयपुर के चंदवाजी थानाक्षेत्र में एक युवक की हत्या के मामले में चल रही ट्रायल में अदालत में उस समय अजीबोंग़रीब स्थित पैदा हो जब अदालत के सबूत माँगने पर पुलिस ने कहा कि “हत्या में इस्तेमाल हुए चाकू सहित ज़ब्त सभी 14 अन्य सामान बन्दर ले गये।” संबंधित थाने के पुलिस ने रोज़नामचे में भी रिपोर्ट दी है। इस संबंध में लोक अभियोजक ने DGP सहित अन्य पुलिस अधिकारियों स्थित साफ़ करने के लिये कहा गया है। साथ ही अदालत में भी मामले की सुनवायी रोकने के लिये प्रार्थना पत्र दिया गया है। ADJ कोर्ट-1 में बुधवार को इस मामले की पुनः सुनवायी होगी।

 

बता दें कि ADJ कोर्ट-1 में चंदवाजी थानाक्षेत्र के शाशिकान्त शर्मा की हत्या की सुनवायी चल रही है। वर्ष-2016 में शाशिकान्त शर्मा का शव चंदवाजी थाना क्षेत्रान्तर्गत प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के परिसर में पड़ा मिला था। वह 3 दिनों से लापता चल रहे थे। शाशिकान्त शर्मा के शव मिलने के बाद गुस्साये लोगों ने जयपुर-दिल्ली हाई-वे जाम कर दिया था।

इस मामले में लापरवाही बरतने के इल्ज़ाम में SI को निलम्बित भी किया था। पुलिस ने इस हत्या के आरोप में 5 दिनों के बाद चंदवाजी निवासी राहुल कंडेरा व मोहनलाल कंडेरा को अरेस्ट कर इस हत्या का का ख़ुलासा किया था। (Jaipur News)

इस हत्याकांड के ख़ुलासे के साथ ही पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त चाकू सहित कुल 14 अन्य सामान भी ज़ब्त किये थे। अब जब इस मामले की अदालत में सुनवायी के दौरान अदालत ने पुलिस से ज़ब्त समान (सबूत) पेश करने के आदेश दिये तो अब पुलिस ने अदालत में लिखित में लिखित जवाब देकर कहा कि “चाकू सहित ज़ब्त सभी 14 सामान (सबूत) बन्दर ले गये। पुलिस ने इस सम्बन्ध में वर्ष-2016 में ही अपने रोज़नामचे में यही रिपोर्ट डाल दी थी।”

पुलिस के इस लिखित बयान पर अदालत ने नाराज़गी ज़ाहिर करते हुए इस मामले में लोक अभियोजक को पुलिस से स्पष्टीकरण लेकर अदालत को अवगत करवाने का आश्वासन दिया है। जयपुर के एस.पी (ग्रामीण) को पत्र लिखकर स्थिति स्पष्ट करने की गुहार की है, लोक अभियोजक के अनुसार ख़ून लगा चाकू व अन्य 14 ज़ब्त सामान (सबूत) बन्दर द्वारा लेकर भाग जाने की बात बहुत ही अजीब है। (Jaipur News)

इस संबंध में DGP सहित अन्य पुलिस अधिकारियों को पत्र लिखा था। लेकिन अभी तक इसका कोई जवाब नहीं आया है, ऐसे में सोमवार को अदालत में प्रार्थना पत्र लगाकर मामले की सुनवायी रोकने की गुहार लगाई है। इस मामले में अब बुधवार को पुनः सुनवायी होनी तय की गई है। (Jaipur News)
यह भी पढ़ें- देखिये निर्दयी कही जाने वाली पुलिस का एक ऐसा दुर्लभ सराहनीय कारनामा जो आजकल सोशल मीडिया पर ख़ूब वायरल हो रहा है।Indore police gave bike to food delivery boy

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]