झारखण्ड में रोपवे हादसा, रविवार से हवा में लटके हुए हैं 48 पर्यटक,ड्रोन से पहुँचाया जा रहा है खाना- Jharkhand Devghar ropeway accident

झारखण्ड में रोपवे हादसा, रविवार से हवा में लटके हुए हैं 48 पर्यटक,ड्रोन से पहुँचाया जा रहा है खाना– Jharkhand Devghar ropeway accident

झारखंड के देवघर स्थित त्रिकूट पहाड़ी पर रविवार की शाम कई रोपवे ट्रालियों के आपस मे टकराने के बड़ा हादसा हो गया था। जिससे एक पर्यटक की मौत हो गई जबकि 48 पर्यटक अभी भी ऊपर हवा में लटके हुए हैं। हवा में अटके हुए लोगों को प्रशासन की द्वारा ड्रोन के माध्यम से खाना-पानी भेजा जा रहा है। लोगों के रेस्क्यू के लिए अब भारतीय वायु सेना के दो MI-17 हेलिकॉप्टर से रेस्क्यू ऑपरेशन किया जा रहा है। (Jharkhand Devghar ropeway accident)

Jharkhand Devghar ropeway accident

वहीं फँसे हुए लोगों को निकालने के लिये NDRF की टीमें लगातार रेस्क्यू ऑपरेशन चला रही है जिस में हेलिकॉप्टर की सहायता भी ली जा रही है। हालांकि हेलिकॉप्टर की तेज़ हवा के कारण ट्रॉलियां हिलने लगती है जिस से फंसे लोगों को निकालने में सुबह से ही दिक्कतें आ रही थी। (Jharkhand Devghar ropeway accident)

देवघर के ज़िला प्रशासन का अमला भी मौक़े पर मौजूद हैं। लोगों को जल्द से जल्द सुरक्षित निकालकर पर नीचे लाने के प्रयास जारी हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार रविवार को रामनवमी के अवसर पर यहाँ बड़ी संख्या में लोग घूमने आये थे और वे रोपवे पर सवार हुए लेकिन अचानक रोपवे की ट्रॉलियां आपस मे एक दूसरे से जा टकरा गई। जिससे यह हादसा हुआ। (Jharkhand Devghar ropeway accident)

Jharkhand Devghar ropeway accident

वहीं इस हादसे के बाद देवघर के जिला कलेक्टर मंजूनाथ भैजंत्री ने बताया कि फ़िलहाल रोपवे सर्विस को बन्द कर दिया गया है, घायलों को उपचार हेतु देवघर के सदर हस्पताल में भर्ती कराया गया है।” बता दें कि यह रोपवे सेवा देवधर से देवघर से लगभग 13 किलोमीटर दूर दुमका रोड पर स्थित त्रिकूट पर्वत पर संचालित होती है। यह त्रिकूट रोपवे भारत का सब से ऊँचा रोपवे सर्विस है। (Jharkhand Devghar ropeway accident)

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]