KERALA NEET UG Exam 2022- नीट परीक्षा देने गई छात्रा को किया गया अंडरवियर उतारने पर मजबूर,भला ऐसे सिस्टम में कौन माँ-बाप भेजेगा लड़कियों को परीक्षा देने?

KERALA NEET UG Exam: नीट परीक्षा देने गई छात्रा को किया गया अंडरवियर उतारने पर मजबूर,भला ऐसे सिस्टम में कौन माँ-बाप भेजेगा लड़कियों को परीक्षा देने?

कोल्लम: KERALA NEET UG Exam
केरल के कोल्लम ज़िले में NEET UG-2022 (नेशनल एलिजिबिलिटी एंट्रेंस टेस्ट) की परीक्षा देने गयी एक लड़की को सिर्फ़ इसलिये अपने अंडरवियर उतारने के लिए मजबूर किया गया कि चेकिंग के दौरान लड़की के ब्रा में लगे मेटल हुक पर मेटल डिटेक्टर की बीप बज गयी थी। बेटी के साथ हुए इस दुर्व्यवहार पर पिता ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी।

KERALA NEET UG Exam

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अब पीड़ित लड़की का बयान दर्ज करने के बाद कोल्लम रुरल पुलिस डिस्ट्रिक्ट की चदयामंगलम पुलिस में केस दर्ज किया गया है। पुलिस ने IPC की धारा-354 और धारा-509 के अन्तर्गत केस दर्ज किया है। लेकिन यह विवाद अब काफ़ी बढ़ता दिख रहा है, क्योंकि इस घटना पर अब केरल की शिक्षा मन्त्री ने भी अपना बयान दिया है। (KERALA NEET UG Exam)

केरल की शिक्षा मन्त्री का कहना है कि “हमने NTA (नेशनल टेस्टिंग एजेंसी) व केन्द्र सरकार को चिट्ठी लिखकर इस प्रकार के कार्य को लेकर अपनी आपत्ति जतायी है। उन्हें (NTA) अपने निर्देश ठीक से बनाने चाहिये जिससे अधिकारियों में कोई कंफ्यूजन की स्थिति न रहे। हमें यह सुनिश्चित करना है, कि स्टूडेंट्स की मानसिक स्थिति पर इनका (नियमों) प्रभाव न पड़े।”

वहीं इस मामले पर पुलिस का कहना है कि “हमने FIR में कथित आरोपी के रूप में किसी भी व्यक्ति का नाम तो दर्ज नहीं किया है। लेकिन हमें उस एजेंसी की पहचान करनी होगी, जो कि एग्जाम सेंटर पर स्टूडेंट्स की तलाशी ले रही थी। इसके बाद उस महिला को चिन्हित करना होगा जिस ने कथित तौर पर लड़की (पीड़ित) को अपने अंडरवियर को उतारने के लिये विवश किया था।” (KERALA NEET UG Exam)

वहीं इस मामले पर NTA (नेशनल टेस्ट एजेंसी) ने भी अपनी ओर से स्पष्टीकरण दिया है, जिसमें कहा गया कि “एग्ज़ाम के दौरान अथवा उसके बाद किसी भी प्रकार की ऐसी कोई शिकायत दर्ज नहीं की गयी है। NTA को इस संबंध में कोई शिकायती ईमेल तक नहीं प्राप्त हुआ है। मीडिया रिपोर्ट्स से इस कथित घटना का पता चलते ही सेंटर सुपरिटेंडेंट व इंडिपेंडेंट ऑब्जर्वर के साथ साथ NTA की सिटी कॉर्डिनेटर से तत्काल जवाब मांगा गया, लेकिन इन्होंने अन्य बातों के साथ साथ कहा है कि..उन्हें एग्ज़ाम सेंटर में ऐसी कोई घटना होते नहीं दिखाई दी।” (KERALA NEET UG Exam)

NTA ने इस मामले पर आगे कहा कि “जहाँ तक NEET के लिये NTA (नेशनल टेस्ट एजेंसी) के ड्रेस कोड का प्रश्न है, NTA लड़की के माँ-बाप द्वारा लगाये गये आरोपों जैसी किसी भी ऐसी एक्टिविटी की अनुमति नहीं देता है। क्यूँकि ड्रेस कोड एग्ज़ाम को निष्पक्ष तरीक़े से कराने हेतु बनाया जाता है। ड्रेस कोड बनाते समय तलाशी व बायोमेट्रिक एंट्री की सुविधा के लिये लिंग,धार्मिक,सांस्कृतिक और क्षेत्रीय संवेदनशीलता का भी ख़्याल रखा जाता है।” (KERALA NEET UG Exam)
यह भी पढ़ेंलूलू मॉल विवाद पर मुख्यमंत्री योगी का आया बड़ा बयान,कहा लुलु मॉल को बना दिया गया राजनीति का अड्डाLulu Mall Controversy
देश दुनिया टुडे के व्हाट्सएप्प ग्रुप से जुड़ने के लिये इस लिंक पर क्लिक करें

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]