जानिये आज़ विश्व का कौन सा देश 400 वर्षो की ब्रिटेन की ग़ुलामी से आज़ाद होकर गणतंत्र देश बना-know which country of the world today became a republic country after being freed from the slavery of britain for 400-years

जानिये आज़ विश्व का कौन सा देश 400 वर्षो की ब्रिटेन की ग़ुलामी से आज़ाद होकर गणतंत्र देश बना-

know which country of the world today became a republic country after being freed from the slavery of britain for 400-years- बार्बाडोस ने ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ को राष्ट्राध्यक्ष के पद से हटा दिया है, अब यह देश एक गणतंत्र बन गया है। बार्बाडोस देश को मंगलवार पहला राष्ट्रपति मिल गया है और चार सौ साल बाद यह देश गणतंत्र बन गया है।Barbados

बार्बाडोस की राजधानी ब्रिजटाउन के चैंबरलेन ब्रिज पर जमा हज़ारों लोगों ने इस ख़ुशी पर नारे लगाते हुए इस ऐतिहासिक पल का स्वागत किया है। हज़ारों लोगों की भीड़ के बीच हीरोज स्क्वायर पर बार्बाडोस का राष्ट्रगान बजाया गया व 21 तोपों की सलामी दी गई।

इस अवसर पर ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स मौजूद रहे, उनके ही सामने महारानी एलिजाबेथ का ध्वज उतारा गया और बार्बाडोस देश को औपचारिक स्वतन्त्रता मिल गई है। इस अवसर पर ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स ने कहा कि “उनकी माता ने इस अवसर पर बधाई भेजी है।” प्रिंस चार्ल्स ने कहा कि “इस गणतंत्र की स्थापना नई शुरुआत है, हमारे अंधियारे भूतकाल से इतिहास पर धब्बे के रूप में मौजूद दासता की दर्दनाक यातनाओं से निकलकर देश के लोगों ने बेमिसाल ताकत के साथ अपना नया रास्ता बनाया है।” (know which country of the world today became a republic country after being freed from the slavery of britain for 400-years)

Barbados
Barbados

बता दें कि ब्रिटेन की महारानी एलिजेबेथ द्वितीय अब भी 15 देशों की राष्ट्राध्यक्ष हैं इन में युनाइटेड किंग्डम के अलावा कनाडा, ऑस्ट्रेलिया व जमैका देश शामिल हैं। बार्बाडोस ने महारानी एलिजाबेथ द्वितीय को राष्ट्राध्यक्ष के पद से हटाकर एक नई शुरुआत की है। उनकी जगह अब सैंड्रा मेसन देश की राष्ट्रपति होंगी। बार्बाडोस के इस गणतंत्र देश बनने के अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम और भाषण होने के साथ साथ मशहूर बार्बाडियन गायिका रिहाना को राष्ट्रनायक भी घोषित किया गया।

Barbados
Barbados

बार्बाडोस को एक गणतंत्र देश घोषित करने के अभियान का नेतृत्व करने वाली प्रधानमन्त्री मिया मोटली ने इस समारोह का नेतृत्व किया। इस अवसर पर देश के एक कवि विंस्टन फैरल ने इस समारोह में कहा कि “अब हमारा वक्त है, गन्ने के खेतों से निकलकर हम अपने इतिहास पर दावा कर रहे हैं।”

इस अवसर पर ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स ने अपने भाषण में कहा कि “इंग्लैंड का इतिहास दासता से दागी है परन्तु दोनों देशों के मध्य मौजूदा दौर में अच्छे रिश्ते रहे हैं, ब्रिटेन ग़ुलामी को बीते समय का पाप बताता है परन्तु कुछ लोग हैं जो मुआवज़े की माँग भी करते हैं।”

बार्बाडोस के अतीत पर नज़र डालें तो पता चलता है कि यहाँ सन 1627 ई. से 1833 ई. के बीच लगभग 6 लाख लोग ग़ुलाम बनाकर लाए गए थे जिनसे यहाँ गन्ने के खेतों में काम कराया गया और ब्रिटेन के अंग्रेज ज़मींदारों ने इन ग़ुलामों के माध्यम से भारी मुनाफ़ा कमाया। लेकिन अब बार्बाडोस के गणतंत्र देश बन जाने से यहाँ के देश वासियों को ब्रिटेन की ग़ुलामी से पूरी तरह से निजात मिल चुकी है। (know which country of the world today became a republic country after being freed from the slavery of britain for 400-years)

ये भी पढ़ें- अब ATM से पैसा निकालने के बदल चुके है नियम,ATM पर जाने से पहले जान लें क्या है नये नियम?Desh Duniya today

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]