लालू प्रसाद यादव के मामले में हाईकोर्ट ने CBI को लिया आड़े हाथ, कहा सिर्फ़ लालू यादव के ही मामले में भेदभाव क्यों? Lalu Yadav News In Hindi

  • लालू प्रसाद यादव के मामले में हाईकोर्ट ने CBI को लिया आड़े हाथ, कहा सिर्फ़ लालू यादव के ही मामले में भेदभाव क्यों? Lalu Yadav News In Hindi

झारखण्ड: 22 अप्रैल-2022
Lalu Yadav News In Hindi-चारा घोटाले के 5 वें मामले में भी राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव को ज़मानत मिल गई है। आज (शुक्रवार) को झारखण्ड हाईकोर्ट ने लालू प्रसाद यादव को बड़ी राहत दी है। जस्टिस अपरेश कुमार सिंह की अदालत ने इस दौरान CBI (केन्द्रीय जाँच एजेंसी) के व्‍यवहार पर कड़ी टिप्‍पणी की है। जस्टिस अपरेश कुमार सिंह की अदालत ने लालू प्रसाद को सशर्त ज़मानत की सुविधा प्रदान करते हुए उन्हें 1-1 लाख रुपये के निजी मुचलके पर रिहा करने के आदेश दिये है। इस के अतिरिक्त अदालत जुर्माने की कुल 60 लाख रुपये की राशि में से 10 लाख रुपये जमा करने का भी निर्देश दिया।

 

बता दें कि राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव को डोरंडा कोषागार से अवैध निकासी के मामले में CBI कोर्ट ने 5 वर्ष की सज़ा के साथ 60 लाख रुपये जुर्माना लगाया है। इसके विरुद्ध ही लालू प्रसाद यादव ने अपील दाख़िल की थी। इस मामले की सुनवायी के दौरान सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल और देवर्षि मंडल ने कोर्ट को बताया कि “लालू प्रसाद यादव ने इस मामले में अब तक कुल 42 माह जेल में बिताये हैं। जबकि डोरंडा वाले मामले में उन्हें 5 वर्ष की सज़ा मिली है। (Lalu Yadav News In Hindi)

ऐसे में सज़ा की आधी अवधि 30 महीने ही होती है। इसलिये उन्हें ज़मानत की सुविधा मिलनी चाहिये” जबकि CBI (केन्द्रीय जाँच एजेंसी) ने इसका विरोध करते हुए कहा गया कि “लालू प्रसाद यादव ने इस मामले में लगभग ढाई से तीन महीने ही जेल में बिताये है। उनकी तरफ़ से सीआरपीसी की धारा 427 का मुद्दा उठाया गया। लालू प्रसाद यादव की ज़मानत के विरुद्ध सुप्रीम कोर्ट में एसएलपी दाख़िल की गई है, जिस में उन्हें नोटिस जारी किया गया है।

 

इस पर कोर्ट ने कहा कि CBI सिर्फ़ लालू प्रसाद यादव के मामले में बार बार CRPC की धारा 427 का मुद्दा उठात है। इसके अलावा चारा घोटाले के किसी अन्य सज़ायाफ्ता मामले में ऐसा नहीं होता है। कोर्ट ने CBI की इस दलील को नहीं मानते हुए लालू प्रसाद प्रसाद यादव को ज़मानत की सुविधा प्रदान कर दी है। (Lalu Yadav News In Hindi)

 

झारखण्ड हाईकोर्ट ने माना कि लालू प्रसाद यादव इस मामले में 40 महीने ही जेल में बिताये हैं। लालू प्रसाद यादव के अधिवक्ता देवर्षि मंडल ने बताया कि इस मामले में लालू प्रसाद यादव द्वारा मंगलवार या बुधवार बेल बांड भरा जायेगा, जिसके बाद निचली अदालत से रिहाई का आदेश जारी किया जायेगा। आपको बता दें कि लालू प्रसाद को चारा घोटाले के सभी पाँचों मामलों में ज़मानत मिल चुकी है। लालू प्रसाद यादव फ़िललहाल दिल्ली में उपचार के लिए एक हस्पताल में भर्ती हैं। (Lalu Yadav News In Hindi)

यह भी पढ़ें- मोदी जी…साम्प्रदायिकता पर अंकुश लगाने के लिये दखल दें-जूलियो रिबैरो (पूर्व DGP पंजाब)Julio Ribeiro,former DGP Punjab

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]