प्रथम चरण के मतदान से पहले ही केशव प्रसाद मौर्य ने बदला अपना गणित फार्मूला, 80-20 से 60-40 के रेश्यो पर आये-Mainpuri-Keshav Prasad Maurya

प्रथम चरण के मतदान से पहले ही केशव प्रसाद मौर्य ने बदला अपना गणित फार्मूला, 80-20 से 60-40 के रेश्यो पर आये-Mainpuri-Keshav Prasad Maurya

मैनपुरी:
इस समय यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर सियासी गतिविधियां और बयान बाज़िया पूरे चरम पर हैं। सभी राजनीतिक दल और राजनीतिक नेता चुनाव जीतने के लिए आरोप-प्रत्यारोप के साथ-साथ जीत के गणित और आंकड़ों में पूरी माथापच्ची कर रहे हैं। कुछ समय पहले यूपी के उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने जो 80 बनाम 20 का रेश्यो फार्मूला निकाला था। यानि 80 अकेले बीजेपी का और 20 में अन्य सभी, लेकिन अब केशव प्रसाद मौर्य ने अपने रेश्यो फॉर्मूले में बदलाव करते हुए इस रेश्यो 60 : 40 कर दिया है।

उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने सोमवार को मैनपुरी में कहा कि “उत्तर प्रदेश में 60 हमारा और 40 में बाकी का बँटवारा है,और इस बँटवारे में भी हिस्सा हमारा है।” केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि “सपा में अब भी कोई बदलाव नहीं हुआ, वह अब भी पुराने ढर्रे पर ही हैं।” उन्होंने कहा कि “अगर ऐसा न होता वह जीतने के लिए अपराधियों को टिकट न देती।” केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि “इस बार तो बीजेपी की आँधी 2014, 2017 और 2019 से भी तेज़ है।” (Mainpuri-Keshav Prasad Maurya)

मैनपुरी में मतदाताओं के साथ बैठक करते हुए केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि “ये मतदान इस भ्रम को तोड़ेगा कि मैनपुरी मुलायम परिवार का गढ़ है.. बता दीजिये उन्हें (मुलायम परिवार) कि यह (मैनपुरी) उनका नहीं भाजपा का मज़बूत क़िला है जिस में वो तो क्या कोई भी सेंध नहीं लगा सकता।” केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि “जैसे ही बीजेपी ने एस.पी सिंह बघेल को चुनाव मैदान में उतारा तो अखिलेश यादव घबरा गए हैं कि उनके विधानसभा में पहुँचने का सपना कहीं चकनाचूर न हो जाये।” (Mainpuri-Keshav Prasad Maurya)

उन्होंने कहा कि “अभी कुछ गुंडे बचे हुए हैं लेकिन इस बार बीजेपी की जीत के साथ ही उनकी गुंडई इतिहास के पन्नों में सिमट जायेगी। अखिलेश यादव चुनाव जीतने के लिये चाहे कितने ही गुंडों को टिकट दे दें लेकिन उनकी ज़मानत ज़ब्त होकर ही रहेगी।”

ये भी पढ़ें- यूपी के एक बीजेपी विधायक ने किया समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी को समर्थन देने का ऐलानNow Gonda BJP MLA become rebel

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]