Meerut News: अजब-ग़ज़ब- 20 साल से बिस्तर पर लाचार पड़ी 54 वर्षीय अलीशा को ही यूपी पुलिस ने बना दिया गैंगस्टर

Meerut News: अजब-ग़ज़ब- 20 साल से बिस्तर पर लाचार पड़ी 54 वर्षीय अलीशा को ही यूपी पुलिस ने बना दिया गैंगस्टर

 

 

मेरठ: Meerut News- (सोर्स- The Quint) यूपी में बेहतर क़ानून व्यवस्था दिखाने के लिये यूपी पुलिस सरकार की नज़रों में अपन नम्बर बढ़ाने की अन्धी दौड़ में पुलिस अमानवीयता की हदें पार कर रही है। कुछ ऐसी ही एक घटना देखने को मिली यूपी के मेरठ जनपद में जहाँ 20 सालों से बिस्तर पर पड़ी एक 54 वर्षीय बीमार महिला को गैंगस्टर एक्ट के मामले में नामजद कर दिया गया है।Meerut News

इस 54 वर्षीय बीमार महिला के विरुद्ध इससे पूर्व दस्तावेज़ तैयार कर धोखाधड़ी करने का मामला भी दर्ज कराया गया था। हालांकि बाद में मेरठ पुलिस ने इसमामले से गम्भीर धारायें हटा दी गयी। मेरठ के दिल्ली गेट थाने में विगत 14 दिसम्बर 2022 को यूपी गिरोहबन्द समाज विरोधी क्रिया कलाप निवारण अधिनियम-1986 की धारा-2 व धारा-3 के अन्तर्गत मुक़दमा अपराध संख्या-253 दर्ज किया गया है। (Meerut News)

मीडिया रिपोर्ट्स (The Quint) अनुसार दिल्ली गेट थाने के प्रभारी निरीक्षक ऋषिपाल सिंह ने एक महिला सहित 6 लोगों को इस मामले का आरोपी बनाया गया है। इस महिला का नाम अलीशा है और इसकी उम्र 54 वर्ष है। यह अलीशा नाम की महिला बागपत के बरनावा क़स्बे की निवासी है जो क मेरठ- बागपत की सीमा पर स्थित है। (Meerut News)

यह 54 वर्षीय बीमार महिला अलीशा बीते 20 वर्षों से अधिक समय से अपने घर की निचली मंज़िल के लास्ट कमरे में रहती है। बताया जा रहा है कि अलीशा गैंगरीन जैसी गम्भीर बीमारी से पीड़ित चल रही है। जिस कारण महिला के पूरे शरीर पर ज़ख़्म बनते रहते और ख़त्म होते रहते है। इसी बीमारी के दौरान महिला के जिस्म का वज़न बढ़कर 140 किलोग्राम तक पहुँच गया है। (Meerut News)

साथ ही महिला की आँखों में मोतियाबिन्द की भी शिकायत हुई तो उसके घर वालों ने उनका ऑपरेशन करा दिया। लेकिन ऑपरेशन के बाद अब उसकी एक आँख की रोशनी जा चुकी है। साथ ही उन्हें फेफड़ों का संक्रमण भी है, और उन्हें हृदयरोग भी। अपनी इन्ही बीमारी के चलते वह अब से लाचार हैं। हालात ये हैं कि इस महिला को अपने रोज़मर्रा के कामों में सहयोग के लिए 2 या 3 लोगों की आवश्यकता पड़ती है, जोकि इस महिला को अपने हाथों में उठाकर टॉयलेट, बाथरूम तक ले जाते है। (Meerut News)

जानकारी के अनुसार बीते 20 वर्षों से महिला ने डॉक्टर के क्लीनिक और अपने घर के अलावा और किसी का घर तक नहीं देखा है। अब इस महिला को यह तक भी मालूम नहीं कि वह गैंगस्टर कैसे और कब बन गयी है? महिला को तो पता ही तब चला जब कुछ दिन पहले मेरठ के लिसाड़ी गेट थाने से कुछ पुलिसकर्मी आये और उन्होंने एक कागज़ थमाते हुए बताया कि व गैंगस्टर एक्ट में निरुद्ध हो चुकी है।
और उन्हें अपने बयान दर्ज कराने के लिये थाने में आना होगा। (Meerut News)

The Quint मीडिया के अनुसार महिला अलीशा ने रोते हुए बताया कि “मैं तो अल्लाह ताला के बुलावे के इन्तज़ार में बरसों से बैठी हूँ। अब मुझ पर क़ानून की लाठी पड़ी है, मैं तो मौत माँग रही थी, लेकिन यहाँ तो फाँसी सी देकर मुझे अधमरा कर दिया गया है। वहीं महिला अलीशा के पति हनीफ़ भी इसी मामले के मुजरिम हैं। the Quint मीडिया अनुसार दरअसल पुलिस के अत्याचार का मुख्य निशाना तो महिला के पति हनीफ ही थे। (Meerut News)

मीडिया रिपोर्ट्स अनुसार मेरठ के काँग्रेसी नेता नसीम क़ुरैशी ने विगत 7 नवम्बर- 2021 में इनके परिवार और 2 दोस्तों के विरुद्ध धोखाधड़ी का एक मामला दर्ज कराया था। इन्हें इस बारे में तब पता चला, जब उनके बेटों को पुलिस घर से अरेस्ट करके ले गयी, और फ़िर उन्हें जेल भेज दिया गया। इसकी शिकायत आई.जी मेरठ से की गयी, जिसके बाद हुई जाँच-पड़ताल में आरोपों के सबूत नहीं मिले, तो मेरठ पुलिस ने केस की धारायें- 467, 468 व धारा-471 हटा दी गयी। लेकिन अब शेष धाराओं में चार्जशीट दाख़िल कर दी गयी। (Meerut News)

महिला के पति हनीफ़ इस चार्जशीट के विरुद्ध हाईकोर्ट गये, और 16 नवम्बर- 2022 को हाईकोर्ट ने इस मामले की प्रोसेडिंग पर स्टे दे दिया। ए.डी.जी मेरठ ने भी इस मामले की जाँच-पड़ताल कराई हुई थी लेकिन इस दौरान एस.एस.पी के आदेश पर सभी आरोपियों के विरुद्ध गैंगस्टर की फ़ाइल बनाकर इसे 13 दिसम्बर- 2022 को अप्रूवल दे दिया गया था। अगले दिन 14 दिसम्बर- 2022 को मेरठ के दिल्ली गेट थाने में गैंगस्टर का मामला दर्ज हो गया। (Meerut News)

The Quint मीडिया रिपोर्ट में मेरठ के ए.डी.जी राजीव सभरवाल के हवाले से बताया जा रहा है कि इस मामले के संज्ञान में आने के बाद हाईकोर्ट के प्रोसीडिंग स्टे के आधार पर फ़िलहाल इन पर गैंगस्टर की प्रक्रिया पर रोक लगा दी गयी है। और मामले की स्वतंत्र जाँच के लिए एस.एस.पी को निर्देश दे दिया गया है। (Meerut News)
(समाचार स्रोत- The Quint)
ये भी पढ़ें: संघ प्रमुख भागवत ने कहा ‘भारत में मुस्लिमों को डरने की आवश्यकता नहीं, लेकिन इन्हें अपनी श्रेष्ठता का भाव छोड़ना होगाMohan Bhagwat Advice To Muslims

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]