Morbi Bridge Collapse: गुजरात के मोरबी में केबल ब्रिज हादसे में अब मौत का आंकड़ा बढ़कर हुआ 141, ब्रिज मैनेजमेंट कम्पनी के विरुद्ध ग़ैर इरादतन हत्याओं का केस दर्ज

Morbi Bridge Collapse: गुजरात के मोरबी में केबल ब्रिज हादसे में अब मौत का आंकड़ा बढ़कर हुआ 141, ब्रिज मैनेजमेंट कम्पनी के विरुद्ध ग़ैर इरादतन हत्याओं का केस दर्ज

 

गुजरात: Morbi Bridge Collapse: गुजरात के मोरबी में रविवार को हुए केबल ब्रिज हादसे में अब तक मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 141 हो चुका है, जबकि 170 से अधिक लोगों का अब तक कुछ पता नहीं चल पाया है। रेस्क्यू युद्ध स्तर पर जारी है। इस हादसे में राजकोट से भाजपा सांसद मोहनभाई कल्याणजी कुंदारिया के 12 रिश्तेदारों की भी मौत होने की ख़बर है।

Morbi Bridge Collapseमीडिया रिपोर्ट्स अनुसार इस हादसे के बाद ब्रिज मैनेजमेंट कम्पनी के विरुद्ध ग़ैर इरादतन हत्याओं का मामला दर्ज कर लिया गया है। गुजरात के गृहमन्त्री हर्ष संघवी ने आज (सोमवार) सुबह बताया कि “इस मामले में आपराधिक केस दर्ज कर लिया गया है, व IGP रैंक के अधिकारी के नेतृत्व में इसकी जाँच शुरू कर दी गई है। साथ ही पीड़ित परिवारों को 6-6 लाख रुपये की आर्थिक सहायता की घोषणा कर दी गयी है। (Morbi Bridge Collaps)

गृहमन्त्री के अनुसार रातभर राहत बचाव कार्य में  नौसेना, NDRF एयर फोर्स और थल सेना के जवान घटना के बाद तत्काल घटनास्थल पर पहुँचे और रातभर रेस्क्यू के दौरान 200 से अधिक जवान खोज, राहत और बचाव कार्यों में लगे रहे। मोरबी हादसे पर स्वयं केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह और प्रधानमंत्री मोदी भी हादसे पर लगातार नज़र बनाये हुए हैं। वहीं गुजरात के मुख्यमन्त्री व प्रदेश के गृहमन्त्री भी घटना का जायज़ा लेने पहुँचे। (Morbi Bridge Collaps)

इनके अलावा SDRF के 3 और राज्य रिजर्व पुलिस के 2 दस्ते भी बचाव और राहत कार्यों के लिए मोरबी पहुंचे. घायल लोगों के इलाज के लिए राजकोट सिविल अस्पताल में एक आइसोलेशन वार्ड भी बनाया गया है. अबतक 177 लोगों को रेस्क्यू किया गया है। (Morbi Bridge Collaps)Morbi Bridge Collapse

मीडिया रिपोर्ट्स अनुसार घटना के संबंध में NDRF के DIG मोहसेन शाहिदी ने बताया कि “NDRF की 2 और टीमों को वडोदरा एयरपोर्ट से राजकोट एयरपोर्ट के लिये रवाना किया गया। NDRF टीम के साथ वायुसेना का विमान राहत कार्यों के लिये रवाना हुए और तुरन्त राहत बचाव कार्य शुरु किया गया। इसके अतिरिक्त जामनगर और उसके आसपास के अन्य स्थानों में बचाव कार्यों के लिये हेलीकाप्टरों को भी तैयार रखा गया है। (Morbi Bridge Collaps)

बता दें कि यह रेस्क्यू ऑपरेशन कितने बड़े स्तर पर चलाया जा रहा है, इसका अनुमान इस बात से लगता हैं कि हादसे के बाद रेस्क्यू ऑपरेशन में वायुसेना सिर्फ़ शामिल ही नहीं हुई है, बल्कि अपने सब से खूंखार कमांडोज़ को भी इस सर्च ऑपरेशन में लगाया गया है। इंडियन आर्मी के पैरा कमांडो और नेवी के मार्कोस कमांडो की तरह ही गरुड़ कमांडोज़ भी बेहद खूँखार होते हैं। (Morbi Bridge Collaps)

गुजरात के मोरबी हादसे के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने भी राज्य में अपने सारे राजनीतिक पकार्यक्रम स्थागि कर दिये गये हैं। वहीं अरविन्द केजरीवाल ने आज हरियाणा के आदमपुर में होने वाला रोड शो भी कैंसिल कर दिया है।
ये भी पढ़ें- ‘हमें मदरसों में कोई सरकारी मदद नहीं चाहिए, मदरसे सिर्फ़ दीनी तालीम के लिये होते हैं, दुनियावी के लिये स्कूल, कालेज और यूनिवर्सिटीज़ होती हैं- मौलाना अरशद मदनीRabta Madaris Ijlaas Deoband

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]