योगी की मुस्लिम धर्मगुरु ने की प्रसंशा, कहा दूसरे राज्यों के मुख्यमंत्रियों को लेनी चाहिये इनसे सीख- Muslim religious leaders praised Yogi Adityanath

योगी की मुस्लिम धर्मगुरु ने की प्रसंशा, कहा दूसरे राज्यों के मुख्यमंत्रियों को लेनी चाहिये इनसे सीख- Muslim religious leaders praised Yogi Adityanath

लखनऊ : 20 अप्रैल-2022
Muslim religious leaders praised Yogi Adityanath- राजस्थान, गुजरात, मध्य प्रदेश और दिल्ली में हुई साम्प्रदायिक हिंसा के बाद यूपी की योगी सरकार ने धार्मिक आयोजनों,जुलूस, शोभायात्राओं और लाउडस्पीकर को लेकर नई गाईडलाइन जारी की है। जिसका मुस्लिम धर्मगुरु ने स्वागत किया और तारीफ़ करते हुए कहा कि यूपी के मुख्यमंत्री योगी से दूसरे राज्यों के मुख्यमंत्रियों को भी सीख लेने की बात कही हैं। (Muslim religious leaders praised Yogi Adityanath)

हनुमान जयंती पर जिस प्रकार से दिल्ली के जहाँगीरपुरी में हिंसा हुई है, राजस्थान,,मध्यप्रदेश और गुजरात मे रामनवमी से लेकर हिंसा हुई है इसको लेकर ।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ काफ़ी अलर्ट दिख रहे हैं। योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में इस प्रकार की कोई घटना न हो इसके लिये अधिकारियों को कड़े निर्देश देते हुए लोगों से भी शान्तिपूर्वक त्यौहारों को मनाने की अपील की है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इस क़दम की मुस्लिम धर्मगुरु और दारुल उलूम फिरंगी महल के प्रवक्ता मौलाना सुफ़ियान निज़ामी ने सराहना करते हुए कहा कि “हमारे वज़ीरेआला (मुख्यमंत्री) ने जिस तरीक़े से धार्मिक आयोजनों को लेकर गाईडलाइन और निर्देश जारीकिये है यह बिल्कुल सही है। किसी भी प्रदेश के अन्दर यदि शान्तिपूर्ण तरीक़े से आयोजन करते हैं तो इसके लिये यह तमाम शर्तें और वसूल ज़रुरी हैं।” (Muslim religious leaders praised Yogi Adityanath)

मौलाना सुफ़ियान निज़ामी ने कहा कि “जिन सूबों (प्रदेशों) के अन्दर ये हिंसा हुई है वहाँ पर बिना प्रशासन की इज़ाजत के यात्रायें निकाली गई। और सड़कों पर नारेबाज़ी की गई है। शायद उसका बुरा नतीज़ा ही हम सबके सामने आया है। इसलिये मुझे यह बात कहते हुए कोई गुरेज़ नहीं कि तमाम सूबों (प्रदेशों) के वज़ीरे आलाओं (मुख्यमंत्रियों) को यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की हिदायतों पर अमल करना चाहिये।” (Muslim religious leaders praised Yogi Adityanath)

दूसरे सूबों को भी इनसे यह सीख लेनी चाहिये कि जैसे रमज़ान भी है और यहाँ तमाम यात्राएं भी निकल रही हैं लेकिन यहाँ (यूपी में) किसी भी तरह का फ़साद कहीं भी देखने को नहीं मिला है। इसलिये जो भी निर्देश या हिदायतें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा जारी की हैं वह बिल्कुल मुनासिब हैं। क़ानून व्यवस्था के मद्देनज़र इन तमाम शर्तों, हिदायतों पर अमल करने की ज़रुरत है। (Muslim religious leaders praised Yogi Adityanath)

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने हाल ही में सोमवार को अधिकारियों को निर्देश जारी किये थे कि अब कोई शोभायात्रा या धार्मिक जुलूस बिना प्रशासन की अनुमति के नहीं निकाली जाये। इसकी जानकारी मुख्यमंत्री ऑफिस के ट्वीट हैंडल से भी दी थी जिस में कहा गया था कि “कोई भी शोभायात्रा, धार्मिक जुलूस बिना विधिवत अनुमति के नहीं निकाली जाये।

और अनुमति से पहले आयोजक से शान्ति और सौहार्द क़ायम रखने के सम्बन्ध में शपथ पत्र लिया जाये। और अनुमति सिर्फ़ उन्हीं धार्मिक जुलूसों को दिया जाये जो पारम्परिक हों। नयी परम्परा वाले आयोजनों को अनावश्यक अनुमति न दी जाये। (Muslim religious leaders praised Yogi Adityanath)
यह भी पढ़ें-

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]