ऑनलाइन गेम की लत में 13 साल के बच्चे ने हारे अपनी माँ के 40 हज़ार रुपये “I am Sorry माँ” लिखकर किया सुसाइड- Negative Side-effects of Online Game Addiction

ऑनलाइन गेम की लत में 13 साल के बच्चे ने हारे अपनी माँ के 40 हज़ार रुपये “I am Sorry माँ” लिखकर किया सुसाइड– Negative Side-effects of Online Game Addiction

मध्य प्रदेश: 
Negative Side-effects of Online Game Addiction- यूँ तो बदलते इस आधुनिक दौर में बच्चों के खेल भी अब आधुनिक ही हो गये हैं। अब बच्चे पारम्परिक खेलों के बजाये कम्प्यूटर और मोबाईल फ़ोन पर ही गेम खेलते हैं। सॉफ्टवेयर गेम कम्पनियां रोज़ कोई न कोई नये डिजिटल गेम लॉन्च करती हैं और बच्चे पढ़ाई से कहीं ज़्यादा समय मोबाईल या कम्प्यूटर पर गेम खेलकर समय व्यतीत कर रहे हैं। कई जागरूक माँ बाप तो अपने बच्चों को डिजिटल गेम की लत से अपने बच्चों को बचाने में सफ़ल हो जाते हैं लेकिन कुछ माँ बाप अपने बच्चों के प्यार में या घर में बच्चों की शरारतों से छुटकारा पाने के लिये ख़ुद ही बच्चों अपने फ़ोन देकर गेम के एडिक्ट बनाने में अपना नकारात्मक योगदान देते हैं। ऐसे माँ बाप का बच्चों के प्रति ज़रूरत से ज़्यादा प्यार कई बार बहुत घातक सिद्ध भी हो जाता है। (Negative Side-effects of Online Game Addiction )Negative Side-effects of Online Game Addiction

ऐसा ही एक मामला मध्य प्रदेश के छतरपुर ज़िले से सामने आया है जहाँ एक 13 साल के एक बच्चे ने ऑनलाईन गेम में अपनी माँ के बैंक एकाउंट से 40 हज़ार रूपये हारने के बाद ऐसा ख़तरनाक क़दम उठाया है कि जिसे सुनकर आपका भी दिल दहल जायेगा।
दरअसल मध्य प्रदेश के छतरपुर के एक 13 वर्षीय बच्चे कृष्णा को मोबाईल पर ऑनलाईन गेम खेलने की लत उस समय लग गई जब वह लॉकडाउन में अपनी माँ के मोबाईल फ़ोन से ऑनलाइन क्लास लेता था। जब बच्चे के हाथ में मोबाईल फ़ोन होता था तो वह चोरी छुपे फ़ोन पर गेम भी खेलने लगा था। बात अगर सिर्फ़ ऑफलाइन गेम खेलने तक होती तो फ़िर भी कुछ ठीक होता लेकिन वह ऐसे ऑनलाईन गेम खेलने लगा जिन पर पैसा भी लगता है। (Negative Side-effects of Online Game Addiction )

अब इस 13 वर्षीय बच्चे कृष्णा को फ़्री फ़ायर गेम खेलने की बड़ी लत चुकी थी और वह इस गेम में 40 हज़ार रुपये हार गया था। यह अमाउंट बच्चे की माँ के बैंक अकाउंट से कटे थे। जब बच्चे (कृष्णा) की माँ प्रीति पाण्डेय को मोबाईल पर बैंक से अमाउंट कटने का मैसेज आया तो उसने अपने बेटे को फ़ोन कॉल करके पूछा तो बच्चे ने बताया कि उनके यें पैसे फ़्री फ़ायर गेम में से कटे हैं। यह सुनकर बच्चे की माँ बहुत नाराज़ हुई और उसने बेटे कृष्णा को ख़ूब डांट लगा दी, माँ की डांट सुनकर बेटा इतना डिप्रेशन में आ गया कि उसने फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। बच्चे ने आत्महत्या करने से पहले एक सु-साइड नोट भी लिखा है जिसमें उसने लिखा “I Am Sorry Maa, Dont Cry..मैंने आपके 40 हज़ार रुपये फ़्री फ़ायर गेम में कटवा दिये” बताया जा रहा है कि मृतक कृष्णा नाम का यह बच्चा सागर रोड पर रहने वाले अपने माता पिता प्रीति पाण्डेय और विवेक पाण्डेय की इकलौता पुत्र था।Negative Side-effects of Online Game Addiction (Negative Side-effects of Online Game Addiction )

यह बच्चा (कृष्णा) कक्षा 6 का छात्र था जिसकी एक बहन भी है। बताया जा रहा है कि शुक्रवार की दोपहर लगभग 3:00 बजे वह घर में अपनी बहन के साथ था, इनके पिता पैथोलॉजी में काम करते हैं जबकि माँ प्रीति उस समय हस्पताल में थी। जब बच्चे की माँ प्रीति के मोबाईल फ़ोन पर कटने का मैसेज आया तो माँ ने बेटे को फ़ोन करके इस बाबत पूछा तो बेटे ने ऑनलाइन गेम में पैसा कटने की बात बतायी। माँ ने इस बात पर बच्चे को डांटा तो माँ की डांट सुनते ही बच्चा (कृष्णा) कमरे में चला गया और भीतर से दरवाज़ा बन्द कर लिया। जब थोड़ी देर बाद उसकी बड़ी बहन ने दरवाज़ा खटखटाया तो कमरे के अन्दर से भाई कृष्णा की कोई प्रतिक्रिया नहीं आयी तो उसने अपने मम्मी पापा को फ़ोन किया। (Negative Side-effects of Online Game Addiction )Negative Side-effects of Online Game Addiction

जब घर आकर माँ बाप ने कमरे के अन्दर का नज़ारा देखा तो उनके पैरों तले ज़मीन ख़िसक गई, उनका 13 साल का बेटा कृष्णा फंदे पर लटक रहा था। कृष्णा के कमरे से एक सुसाइड नोट भी मिला जिसमें उसने फ्री फायर गेम में 40 हजार रुपए हारने की बात लिखी। साथ ही उसने बताया कि वह डिप्रेशन में जाने की वजह से खुदखुशी कर रहा है। उसने अपनी माँ के लिए लिखा ‘एम सॉरी मां, डोंट क्राइ।’ बच्चे का यह सुसाइड नोट अब सोशल मीडिया पर बहुत वायरल हो रहा है। (Negative Side-effects of Online Game Addiction )

यह भी पढ़ें- खाप पंचायत ने कहा ‘धर्मान्तरण और लव जेहाद जैसे मुद्दों से भाईचारा ख़राब करना चाह रही भाजपा सरकारShamli Khap Panchayat

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]