NDA की राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी का गाँव जी रहा है महाभारत के युग में,आज तक बिजली नहीं है इस गाँव में: No electricity in Draupadi Murmu’s village

No electricity in Draupadi Murmu’s village: NDA की राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी का गाँव जी रहा है महाभारत के युग में,आज तक बिजली नहीं है इस गाँव में

न्यूज़ डेस्क: No electricity in Draupadi Murmu’s village- NDA द्वारा बनायी गयी राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को अब पूरा देश जान गया है। लेकिन मीडिया की सुर्खियों में छाई इस द्रौपदी मुर्मू का पैतृक गाँव आज के आधुनिक युग में भी मानो महाभारत काल में ही जी रहा है। दरअसल द्रौपदी मुर्मू के पैतृक गाँव डूंगुरीशाही में आज़ादी के इतने बरसों बाद भी आज तक बिजली नहीं है। (No electricity in Draupadi Murmu’s village)No electricity in Draupadi Murmu's village

बता दें कि राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू ओडिशा राज्य के मयूरभंज ज़िले के ऊपरबेडा में पैदा हुई थी। लगभग 3,500 की आबादी वाले इस गाँव में दो मजरे हैं। बड़ाशाही व डूंगरीशाही, बड़ाशाही मजरे में तो बिजली है लेकिन डूंगरीशाही मजरा आज भी अंधेरे में डूबा हुआ है। यहाँ के लोग केरोसीन तेल से अपना रात का अँधेरा भगाते हैं। जिन के पास मोबाईल फ़ोन हैं वे अपना फ़ोन चार्ज करने के लिये एक किलोमीटर दूर जाते हैं। (No electricity in Draupadi Murmu’s village)

लेकिन विकास से दूर पड़ा यह डूंगरीशाही गाँव अब रोशनी में आ रहा है जब द्रौपदी मुर्मू NDA की ओर से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार बनी। जब मीडिया इस डूंगरीशाही गाँव में पहुँची तो मीडियाकर्मी यह देखकर बड़े हैरान रह गये जब देखा कि यहाँ तो बिजली ही नहीं है। इसके बाद द्रौपदी मुर्मू का यह पैतृक गाँव सुर्खियों में आया। (No electricity in Draupadi Murmu’s village)No electricity in Draupadi Murmu's village

हालाँकि द्रौपदी मुर्मू के राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी के बाद अब ओडिशा सरकार ने इस गाँव डूंगरीशाही में बिजली पहुँचाने की कवायद शुरु कर दी है। अब राज्य सरकार द्वारा आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र के गाँव डूंगरीशाही में बिजली पहुँचाने के उद्देश्य से बिजली के खम्बे लगाने और ट्रांसफार्मर आदि लगाने का काम बड़ी तेज़ी से किया जा रहा है। (No electricity in Draupadi Murmu’s village)

राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू का यह पैतृक गाँव डूंगुरीशाही मयूरभंज ज़िले के रायरंगपुर से लगभग 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। अब इस गाँव डूंगरीशाही के लोगों को खुद पर बड़ा गर्व हो रहा है कि उनके गाँव की एक बेटी को देश के प्रथम नागरिक अथवा देश के सबसे प्रतिष्ठित पद की उम्मीदवार बनाया गया है। लेकिन इस गाँव के लोग खुद को गौरवान्वित महसूस करने के साथ ही थोड़ी पीड़ा की अनुभूति भी रखते हैं। कारण उनके गाँव में बिजली का न होना है। (No electricity in Draupadi Murmu’s village)No electricity in Draupadi Murmu's village

मीडिया के हवाले से प्राप्त जानकारी के अनुसार मयूरभंज ज़िले के डूंगुरीशाही की पंचायत समिति सदस्य धनमानी बासकेय ने बताया कि “उनके गाँव में अभी तक बिजली नहीं है। वे रात में अँधेरे को दूर भागने के लिये केरोसिन तेल का दीये जलाते हैं। जब उन्हें मोबाईल फ़ोन चार्ज करने के ज़रूरत होती है तो उन्हें लगभग एक किलोमीटर दूर पास के गाँव बड़ाशाही जाना पड़ता है। (No electricity in Draupadi Murmu’s village)
यह भी पढ़ें- दोस्त को नहीं ले गया अपनी बारात में तो नाराज़ दोस्त ने कर दिया 50 लाख रुपये और मानहानि का मुक़दमाAjab Gazab News

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]