लखनऊ: राजधानी की गलियों में टहलते तेंदुए से लोगों में दहशत- Panic among people due to leopard in Lucknow

लखनऊ: राजधानी की गलियों में टहलते तेंदुए से लोगों में दहशत- Panic among people due to leopard in Lucknow

लखनऊ:
उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के गुडम्बा थानाक्षेत्र के कल्याणपुर में बीती शाम एक तेंदुआ दिखाई देने से दहशत का माहौल बना हुआ है। गलियों में तेंदुआ दिखाई देते ही क्षेत्र के लोगों में अफ़रातफ़री मच गई। राजधानी में तेंदुआ दिखाई देने की सूचना के बाद लखनऊ वन विभाग की टीम तेंदुए को पकड़ने के लिए सक्रिय हो गई है।

Panic among people due to leopard in Lucknow

गुडम्बा थानाक्षेत्र के कल्याणपुरी मोहल्ले में घुस आए तेंदुए से लोगों की सुरक्षा के लिए जब गुडम्बा पुलिस मौक़े पर पहुँची तो थाने के एक सिपाही ज्ञानेंद्र यादव से भी तेंदुए का सामना हो गया, इस दौरान जहाँ सिपाही ज्ञानेंद्र यादव के हाथ पर तेंदुए ने झपट्टा मार दिया वहीं एक अन्य एक युवक के भी घायल होने की ख़बर है।

Panic among people due to leopard in Lucknow

गुडम्बा इंस्पेक्टर ने बताया कि “तेंदुए को पकड़ने के लिए डीएफओ के नेतृत्व में वन विभाग की टीमें सघन सर्च ऑपरेशन चलाये हुए है।” ज़िला प्रशासन ने फ़िलहाल क्षेत्र को लोगों से घरों के अन्दर ही रहने के लिए कहा गया है।

Panic among people due to leopard in Lucknow

बता दें कि राजधानी लखनऊ में तेंदुए की ये पहली दस्तक घटना नहीं है, इस से पूर्व भी कई बार लखनऊ शहर में तेंदुए घुसने की घटनाएं सामने आ चुकी हैं। कुछ समय पूर्व ठाकुरगंज थानाक्षेत्र में भी एक मूक-बधिर स्कूल में तेंदुआ घुस आया था जिसे वन विभाग की टीम ने कई घण्टों की कड़ी मशक्कत के पकड़ा गया था। (Panic among people due to leopard in Lucknow)

इसके अलावा पूर्व में लखनऊ के ‘आशियाना’ थानाक्षेत्र में भी तेंदुए के घुसने की घटना हुई थी, उस समय ‘आशियाना’ थाने के तत्कालीन थाना अध्यक्ष त्रिलोकी सिंह की गोली से तेंदुए की मौत हो गई थी। क्योंकि उस समय तेंदुए ने क्षेत्र में बहुत से लोगों को हमला करके घायल कर दिया था और तेंदुए को ज़िन्दा पकड़ना बहुत मुश्किल हो चला था।

रिपोर्ट: अमित वर्मा, लखनऊ

Panic among people due to leopard in Lucknow
रिपोर्ट: अमित वर्मा (लखनऊ)

ये भी पढ़ें- दलित छात्रों ने स्वर्ण के हाथ का बना खाने से किया इनकार, मुख्यमंत्री धामी तक पहुँचा मामलाSC students refuse food cooked by upper caste

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]