Rajasthan News Lawyer Suicide Case: सीकर में आत्मदाह करने वाले वकील को 27 घंटे बाद भी नहीं हुई चिता नसीब

Rajasthan News Lawyer Suicide Case: सीकर में आत्मदाह करने वाले वकील को 27 घंटे बाद भी नहीं हुई चिता नसीब

सीकर,राजस्थान: Rajasthan News Lawyer Suicide Case
एसडीएम द्वारा रिश्वत लेने का आरोप लगाकर आत्मदाह करने वाले वकील की मौत का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है। मामले को लेकर अब ज़िले के सभी वकीलों में आक्रोश पनप गया है। वकील लोग मृतक वकील के शव को कोर्ट के सामने कल (शुक्रवार) से रखे हुए धरने पर बैठे हैं। तमाम वकील माँगे पूरी न होने तक शव का अन्तिम संस्कार न करने पर अड़े हुए हैं।

शव को कोर्ट के सामने रख धरने पर बैठे वकीलों का उनका कहना है कि “सबसे पहले एस.डी.एम और थाना अधिकारी को गिरफ़्तार किया जाये, शेष माँगों पर प्रशासन अथवा सरकारी प्रतिनिधियों से बात होगी।” वकीलों ने चेतावनी देते हुए कहा कि “अगर शासन-प्रशासन ने शीघ्र उनकी माँगे नहीं मानी तो यह आन्दोलन उग्र रूप धारण कर प्रदेश स्तर पर जायेगा।” (Rajasthan News Lawyer Suicide Case)

Rajasthan News Lawyer Suicide Case

वहीं बार काउंसिल की तरफ़ से जारी धरने में आज (शनिवार) को सांसद सुमेधानन्द सरस्वती भी धरने पर पहुँचे, उन्होंने भी वकीलों द्वारा दिए जा रहे धरने को जायज़ ठहराते हुए इस मामले की निष्पक्ष जाँच कर दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की माँग की है। (Rajasthan News Lawyer Suicide Case)

आपको बता दें कि इस मामले में अभिभाषक संघ ने भी अपनी 5 सुत्रीय माँगे रखी जिस में आरोपी एस.डी.एम राकेश कुमार और थानाध्यक्ष घासीराम मीणा गिरफ़्तार करने, मृतक वकील हंसराज के परिजनों को 2 करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता देने और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने के साथ घटना की CBI जाँच कराने की माँग की गई है। वकीलों का कहना है कि जब तक यें पूरी नहीं होंगी तब तक शव का अन्तिम संस्कार नहीं किया जायेगा।” (Rajasthan News Lawyer Suicide Case)
यह थी घटना, click करके पढ़ें- एसडीएम द्वारा रिश्वत लेने से क्षुब्ध वकील ने कोर्ट में स्वयं को आग लगाकर एसडीएम से जा लिपटा, वकील की हुई मौत

Rajasthan News: एसडीएम द्वारा रिश्वत लेने से क्षुब्ध वकील ने कोर्ट में स्वयं को आग लगाकर एसडीएम को पकड़ा, वकील की हुई मौत

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]