जमशेदपुर में धर्म परिवर्तन मामले को लेकर हुआ बवाल, जमकर तोड़फोड़ और हुई आगजनी-Religious conversion violence in Jamshedpur

जमशेदपुर में धर्म परिवर्तन मामले को लेकर हुआ बवाल, जमकर तोड़फोड़ और हुई आगजनी-Religious conversion violence in Jamshedpur

जमशेदपुर: 
Religious conversion violence in Jamshedpur- झारखण्ड के जमशेदपुर में धर्म परिवर्तन के आरोप में जमकर आगजनी और तोड़फोड़ हुई। बवाल के बाद हालात पर क़ाबू पाने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज बल का प्रयोग करना पड़ा। यहाँ हिंसा करने का आरोप बजरंग दल और कुछ हिंदुत्ववादी संगठनों के कार्यकर्ताओं पर लगा है, फ़िलहाल स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है लेकिन है नियंत्रण में। (Religious conversion violence in Jamshedpur)

मीडिया रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि जमशेदपुर के गोलमुरी थानांतर्गत नानक नगर रेल पटरी के समीप मिशनरीज़ द्वारा चंगाई सभा का आयोजन किया जा रहा था जिसमें बड़ी संख्या में लोग इकट्ठा हुए थे। इस दौरान कुछ हिंदुत्वादी संगठनों के लोग यहाँ आये। इन लोगों ने सभा में धर्म परिवर्तन कराये जाने का आरोप लगाते हुए परंपरागत तरीक़े से ख़ूब हंगामा किया और कार्यक्रम अयोजन के लिए लगाये गये बैनर्स और पोस्टर्स फाड़कर आग के हवाले कर दिये। कुर्सियां तोड़ दी गई। (Religious conversion violence in Jamshedpur)

विवाद बढ़ता देख मिशनरीज़ के लोगों ने इसकी सूचना गोलमुरी पुलिस को दे दी। सूचना पाकर गोलमुरी थाना प्रभारी दल-बल के साथ तुरन्त घटनास्थल पर पहुँचे। हालांकि पुलिस भी उपद्रवियों के गुस्से को शान्त नही सकी। उग्र हिंदुत्वादी संगठनों के लोग पुलिस के सामने भी ज्यों का त्यों नारेबाज़ी, आगजनी और तोड़फोड़ करते रहे। इसके बाद स्थिति को नियंत्रण करने के लिए QRT टीम को घटनास्थल पर बुलाया गया। (Religious conversion violence in Jamshedpur)

सूचना पाकर प्रभारी DSP सिटी अनिमेष गुप्ता भी मौक़े पर पहुँचे और लोगों से शान्ति बरतने की अपील करते रहे लेकिन उपद्रवी लोग निरंतर उपद्रव करते रहे और मामला बढ़ता गया। इसके बाद अंततः स्थिति को नियंत्रण करने के लिये पुलिस ने हल्का बल का प्रयोग किया। पुलिस के अधिकारी लगातार लोगों से शान्ति व्यवस्था बनाये रखने का आग्रह करते रहे। बताया जा रहा है स्थिति अभी नियंत्रण में ज़रूर है लेकिन माहौल तनाव पूर्ण बना हुआ है। (Religious conversion violence in Jamshedpur)

इस मामले पर गोलमुरी थाना प्रभारी अरविंद कुमार ने बताया कि “मिशनरीज़ द्वारा यहाँ चंगाई सभा का आयोजन एक लम्बे समय से होता आ रहा है। वहीं बजरंग दल और अन्य हिंदुत्ववादी संगठनों के लोगों का आरोप है कि “यहाँ धर्म परिवर्तन कराया जा रहा है।” लेकिन पुलिस के अनुसार यहाँ अब तक धर्म-परिवर्तन कराये जाने का एक भी मामला सामने नहीं आया है।
(Religious conversion violence in Jamshedpur)
यह भी पढ़ें- पोलिंग के दौरान प्रयागराज में बूथ के पास बम विस्फोट,एक युवक की मौत और एक घायल1 person has died in bomb blast in Prayagraj

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]