Reva Pankaj Tripathi News: मध्यप्रदेश के रीवा में जिस एक लड़की को बड़ी बेरहमी से पीटते हुए व्यक्ति को मुस्लिम बताकर सोशल मीडिया पर भ्रम फ़ैलाया गया वह पंकज त्रिपाठी निकला

Reva Pankaj Tripathi News: मध्यप्रदेश के रीवा में जिस एक लड़की को बड़ी बेरहमी से पीटते हुए व्यक्ति को मुस्लिम बताकर सोशल मीडिया पर भ्रम फ़ैलाया गया वह पंकज त्रिपाठी निकला

 

 

रीवा (मध्य प्रदेश): Reva Pankaj Tripathi News-पिछले कई दिनों से मध्यप्रदेश के रीवा का एक वीडियो सोशल मीडिया पर ख़ूब वायरल हो रहा, जिसमें रक लड़की को बड़ी बड़ी बेरहमी से एक पीटते हुए युवक को मुस्लिम बताया जा रहा है। साथ ही ‘मेरा अब्दुल ऐसा नहीं’ कैप्शन देकर एंटी मुस्लिम नैरेटिव चलाया जा रहा है। लेकिन अब इस घटना की सच्चाई कुछ और ही निकलकर सामने आयी है।Reva Pankaj Tripathi News

दरअसल इस वायरल वीडियो में जो युवक लड़की को बेरहमी से पीटता हुआ दिख रहा है, वह मुस्लिम नहीं बल्कि पंकज त्रिपाठी नाम का व्यक्ति है, जो कि रीवा के मउगंज क्षेत्र के गाँव ढेरा का रहने वाला है। लेकिन सोशल मीडिया पर मुस्लिम विरोधी मानसिकता के लोगों द्वारा इस वीडियो को शेयर करते हुए कैप्शन में ‘मेरा अब्दुल वैसा नहीं है’ लिखकर मुस्लिमों के विरुद्ध अभियान चलाया जा रहा है। (Reva Pankaj Tripathi News)

बता दें कि यह घटना विगत 24 दिसम्बर की है, जब एक युवक लड़की के शादी करने के दबाव देने से नाराज़ होते हुए लड़की को बड़ी ही बेदर्दी से लातों पीटता हुआ दिख रहा है। और इस घटना में कोई न पिटती हुई लड़की मुस्लिम है और न ही लड़की को पीटने वाला युवक लड़का। दोनों एक ही समुदाय से संबंध रखते हैं। क्योंकि इस घटना के वीडियो के वायरल होने के बाद जब पुलिस ने जाँच पड़ताल की तो आरोपी पंकज त्रिपाठी को गिरफ़्तार कर लिया। (Reva Pankaj Tripathi News)

इस घटना के बाद जब ज़िला प्रशासन ने आरोपी पंकज त्रिपाठी के घर पर बुलडोजर चलाकर ढहाया तो मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने खुद भी अपने ट्विटर हैंडल पर ट्वीट करते हुए लड़की के साथ बर्बरता करने वाले आरोपी पंकज त्रिपाठी का घर गिराये जाने को प्रमुखता दी है। अब यह बात पूरी तरह से साफ़ है कि मध्य प्रदेश के रीवा में लड़की के साथ बर्बरता करने वाला व्यक्ति मुस्लिम नहीं है। (Reva Pankaj Tripathi News)

उधर इस प्रकरण पर भारतीय मीडिया का दोगलापन भी देखने को मिला। पिछले कुछ समय पहले जब मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह सरकार मुस्लिम आरोपियों पर बुलडोज़र चला रही थी तो मीडिया द्वारा मुसलमानों को पत्थरबाज़ बताते हुए इन पर क़ानून के दायरे में सबक़ सिखाने की बात कर रहे थे, वही पत्रकार अब हिन्दू आरोपी का घर ढहाये जाने पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के ट्वीट पर अपने सुर बदलते हुए दिख रहे हैं, और मुख्यमंत्री की इस कार्यवाही पर सवाल खड़े कर रहे हैं। (Reva Pankaj Tripathi News)Reva Pankaj Tripathi NewsReva Pankaj Tripathi NewsReva Pankaj Tripathi News

जाने माने टीवी एंकर शुभांकर मिश्रा जो पहले बुलडोज़र का समर्थन कर रहे हैं, अब यें लड़की को बेरहमी से पीटने वाले हिन्दू युवक पंकज त्रिपाठी के घर पर बुलडोज़र चलने पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को ही इंसानियत का आईना दिखाने लगे हैं।

मुख्यमंत्री के ट्वीट पर आकर शुभांकर मिश्रा कह रहे हैं कि “ठंड के महीने में जिस आरोपी के घर पर बुलडोज़र चलाया, उस घर में रहने वाले अन्य लोगों का क्या कुसूर? उन्हें क्यों सज़ा दी गयी? क्या यह बात मुस्लिम आरोपियों के घर वालों पर लागू नहीं होती मिश्रा जी? (Reva Pankaj Tripathi News)
यह भी पढ़ें- आगरा में बैंक से 1 करोड़ 37 लाख रुपये लेकर भागा एक प्राइवेट कम्पनी का कर्मचारी, बैंक में रक़म जमा कराते हुए बिगड़ी कर्मचारी की नियतPrivate Employee absconded with 1.37 Lakh In Agra

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]