RSS अगले 2 वर्षों के भीतर अपनी शाखाओं की संख्या बढ़ाकर करेगा 1 लाख

RSS अगले 2 वर्षों के भीतर अपनी शाखाओं की संख्या बढ़ाकर करेगा 1 लाख

जयपुर:
RSS (राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ) ने RSS की स्थापना के शताब्दी वर्ष में 2024 तक देशभर में शाखाओं की संख्या बढ़ाकर 1 लाख करने का निर्णय लिया है। साथ ही RSS ने उदयपुर के कन्हैयालाल हत्याकांड की निन्दा करते हुए कहा है कि “मुस्लिम समाज को ऐसी घटनाओं का खुलकर विरोध करना चाहिये।

शनिवार को RSS के अखिल भारतीय प्रान्त प्रचारकों की 3 दिवसीय बैठक राजस्थान के झुंझुनू में सम्पन्न हुई। इस बैठक के बाद RSS के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख सुनील आम्बेकर ने मीडिया कर्मियों से बातचीत करते हुए बताया कि “इस बैठक में संघ के संगठनात्मक कार्यों के साथ-साथ आगामी योजनाओं और गतिविधियों पर भी विस्तारपूर्वक चर्चा की गई।

सुनील आम्बेकर ने बताया कि “फ़िलहाल RSS की शाखाओं की संख्या कुल 56,824 है। और वर्ष-2025 में RSS को आरम्भ हुए 100 वर्ष पूरे हो रहे हैं। वर्ष- 2024 तक देशभर में RSS अपनी शाखाओं की संख्या को बढ़ाकर 1 लाख कर देगा। RSS द्वारा समाज के सभी वर्गों में कार्य पहुँचाने और समाजिक जागरण के साथ-साथ समाज में सकारात्मक वातावरण बनाने का प्रयास किया जायेगा।RSS

सुनील आम्बेकर ने एक सवाल के जवाब में कहा कि “अभिव्यक्ति की स्वतन्त्रता के साथ लोक भावना का भी विशेष ख़्याल रखा जाना चाहिये।” उन्होंने टेलर कन्हैयालाल की हत्या का ज़िक्र करते हुए कहा कि “उदयपुर में जो कन्हैया लाल की जो नृशंस हत्या हुई हुई है, वह अत्यंत निन्दनीय है और इसकी जितनी भी भर्त्सना की जाये वह कम है।”

RSS के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख सुनील आम्बेकर ने कहा कि “हमारे देश में लोकतन्त्र है, संवैधानिक लोकतान्त्रिक अधिकार हैं। यदि किसी को किसी की कोई बात पसन्द न आये तो उस पर प्रतिक्रिया देने के लिये लोकतान्त्रिक मार्ग है।’ एक सभ्य समाज इस तरह की घटनाओं की निन्दा ही करता है।”

RSS के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख ने कहा “देश का हिन्दू समाज शान्तिपूर्ण, संवैधानिक तरीक़े से अपनी प्रतिक्रिया दे रहा है। मुस्लिम समाज से भी ये ही अपेक्षा है कि वो भी ऐसी घटना का विरोध करे।”
उन्होंने कहा “ऐसी घटनायें न तो समाज हित में ही हैं और न ही देशहित में हैं। ऐसी घटनाओं का सबको मिलकर निषेध करने की ज़रूरत है।”
Courtesy: IBC-24
यह भी पढ़ें- श्रीलंका में प्रदर्शनकारी राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे के घर घुसे, राष्ट्रपति परिवार सहित घर छोड़कर भागेSri Lanka Crisis

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]