Sharad Yadav Is No More: नहीं रहे समाजवाद के प्रखर सिपाही शरद यादव, कई दशकों तक देश की राजनीति प्रमुख चेहरा रहे शरद यादव

Sharad Yadav Is No More: नहीं रहे समाजवाद के प्रखर सिपाही शरद यादव, कई दशकों तक देश की राजनीति प्रमुख चेहरा रहे शरद यादव

 

 

Sharad Yadav Is No More: एक बड़ी और दुःखद ख़बर देश की राजनीति से जुड़ी हुई। बड़े दुःख के साथ लिखना पड़ रहा है कि जदयू के पूर्व अध्यक्ष और समाजवाद के प्रखर नेता शरद यादव का 75 वर्ष की उम्र में निधन हो गया है। शरद यादव को एक प्रमुख समाजवादी नेता के तौर पर जाना था।Sharad Yadav Is No More

जदयू नेता शरद यादव 70 के दशक में काँग्रेस विरोधी लहर में देश की राजनीति में ऊपर उठे और कई दशकों तक देश की राजनीति के प्रमुख चेहरे बने रहे। उन्होंने लोकदल व जनता पार्टी के ज़रिये अपने राजनीतिक कैरियर को आगे बढ़ाया। शरद यादव ने समाजवाद की बुनियाद रखने वाले जय प्रकाश नारायण से लेकर, चौधरी चरण सिंह, राजीव गाँधी और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के साथ भी एक लम्बे समय तक राजनीति की। (Sharad Yadav Is No More)

शरद यादव अपने राजनीतिक कैरियर में कुल 7 बार लोकसभा सांसद, 3 बार राज्यसभा सांसद बने। शरद यादव केन्द्र की पूर्व वी.पी सिंह की सरकार से लेकर अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में भी मन्त्री रहे थे। शरद यादव के निधन पर देश की तमाम राजनीतिक बड़ी शख्सियतों ने गहरा शोक जताया है। (Sharad Yadav Is No More)
यह भी पढ़ें- अजमेर में हिन्दुत्ववादी संगठनों ने दरग़ाह पर हर वर्ष लगने वाले उर्स के स्वागत होल्डिंग्स को लेकर आन्दोलन करने की दी धमकीHindu organizations create ruckus in Ajmer

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]