Sukhant Funeral Managment Service Company: बस ये ही देखना बाक़ी रह गया था, मय्यत पर 4 कंधे और अर्थी से लेकर रोने वाले तक दे रही है यह कम्पनी, परिजनों को बस लाश लानी है

Sukhant Funeral Managment Service Company: बस ये ही देखना बाक़ी रह गया था, मय्यत पर 4 कंधे और अर्थी से लेकर रोने वाले तक दे रही है यह कम्पनी, परिजनों को बस लाश लानी है

 

नई दिल्ली: Sukhant Funeral Managment Service Company- अभी तक आपने हास्य फ़िल्मों में ही मृत्यु पर एक अर्थी के साथ दूसरी अर्थी फ़्री दिये जाने के ऑफर जैसी कॉमेडी देखी होगी। लेकिन बदलते दौर में ऐसे फ़िल्मी सीक्वेंस अब दुनिया में हक़ीक़त का रूप देते दिख रहे हैं।Sukhant Funeral Managment Service Company

आज हम आपको जो ख़बर बताने जा रहे हैं, वह बहुत ही हैरान कर देने वाली है, जिस पर आपको यक़ीन करना थोड़ा मुश्किल ज़रूर हो सकता है। दरअसल यह ख़बर Funeral & Death Service (फ्यूनरल एण्ड डेथ सर्विस‘) से जुडी है जो कि अब कम्पनियों देनी शुरु कर दी है।

यानी अब हमारे समाज में मरने के बाद चार कंधे देने वाले और मय्यत पर रोने वाले आदमी से लेकर अर्थी और अन्तिम संस्कार करने तक की सारी सामग्री तक की सारी सुविधाएं कम्पनी दिया करेगी। (Sukhant Funeral Managment Service Company)Sukhant Funeral Managment Service Company

Funeral Death Service कम्पनी द्वारा दी जाने वाली सुविधाओं की इस लिस्ट में अर्थी, सामग्री, कंधा देने के लिये 4 लोग, रोने वाले लोगों की टीम, नाई और पण्डित तक सभी व्यवस्थायें दी जायेगी। बस परिजनों को तो सिर्फ़ शव लाना होगा। बाक़ी सब काम कम्पनी करा करेगी।

दरअसल आजकल दिल्ली ट्रेड फेयर में एक विशेष और अनोखा स्टार्टअप चर्चा में आया आया है। इस अनोखे स्टार्टअप के बारे में यह सब जानकर लोग बड़े हैरान हो रहे हैं। लेकिन यह सच है और इस अनोखे स्टार्टअप का नाम है “सुखान्त फ्यूनरल मैनेजमैंट अर्थात सुखांत अन्तिम संस्कार। (Sukhant Funeral Managment Service Company)Sukhant Funeral Managment Service Company

मीडिया रिपोर्ट्स अनुसार यह ‘सुखान्त फ्यूनरल मैनेजमैंट’ स्टार्टअप का स्टॉल आजकल दिल्ली ट्रेड फेयर में आकर्षण का केन्द्र बना हुआ है। इस अनोखे स्टार्टअप की अनोखी बात यह है कि यहाँ पर वें सारी वस्तुयें व व्यवस्थायें उपलब्ध हैं जो कि किसी संबंधित धर्म के व्यक्ति की मृत्यु के बाद अन्तिम संस्कार के काम आती हैं। (Sukhant Funeral Managment Service Company)

यहाँ लगे इस ‘सुखान्त फ्यूनरल मैनेजमैंट’ स्टॉल पर सजी सजाई अर्थी और सब समान उपलब्ध है। अगर इस अनोखे स्टार्टअप के बारे में बात करें तो, इसकी सबसे बड़ी और विशेष बात ये है कि मृतक की अर्थी को कंधा देने वाले, अर्थी के साथ राम नाम सत्य बोलते हुए चलने वाले लोगों से लेकर सामग्री और पण्डित, नाई सब कम्पनी के होंगे। (Sukhant Funeral Managment Service Company)

इसके अलावा मृतक की अस्थियों के विसर्जन तक का काम यह कम्पनी ही करेगी। बस परिजनों को शव अपना लाना होगा। बाक़ी सब काम कम्पनी करेगी। मृतक के परिजनों को अन्तिम संस्कार की इन सभी सुविधाओं और व्यवस्थाओं के बदले लोगों को कुल 37,500 रुपये का भुगतान करना होगा। दुनिया में बस यही देखना बाक़ी था।
यह भी पढ़ें- वाह..चुनाव में जीते सरपंच की बजाये हारे हुए सरपंच प्रत्याशी को पुरस्कार मिले 2 करोड़ रूपये और बड़ी गाड़ी, ग्रामीणों ने ढोल बाजे के साथ किया सम्मानितChidi Rohtak Sarpanch Election

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]