Tiger killed in Bagaha: आख़िर मारा ही गया 9 लोगों की जान लेने वाला आदमख़ोर बाघ, 3 दिनों से वन विभाग 400 लोगों की टीम जुटी थी तलाश में

Tiger killed in Bagaha: आख़िर मारा ही गया 9 लोगों की जान लेने वाला आदमख़ोर बाघ, 3 दिनों से वन विभाग 400 लोगों की टीम जुटी थी तलाश में

बगहा,बिहार: 8 अक्टूबर Tiger killed in Bagaha- बिहार के बगहा में आतंक का पर्याय बना हुआ आदमख़ोर बाघ का आख़िर आज (शनिवार) अन्त हो ही गया, अब तक यह बाघ 9 लोगों की जान ले चुका था। पिछले मात्र 3 दिनों के भीतर ही 4 लोगों की ले चुका था यह बाघ।Tiger killed in Bagaha

बता दें कि बिहार के पश्चिम चंपारण जनपद के बगहा के बगहा क्षेत्र में पिछले कुछ दिनों से यह बाघ लगातार एक के बाद एक लोगों को अपना निवाला बनाता आ रहा था। जिसके बाद बाघ को मारने का आदेश जारी किया गया था। इसके लिये वन विभाग की लगभग 400 लोगों की टीमें पिछले 24 घण्टे से इस बाघ की तलाश में जुटी थी। (Tiger killed in Bagaha)

लेकिन आज वन विभाग के सघन अभियान के तहत चले 7 घण्टों के विशेष अभियान के बाद इस बाघ को मारने में सफ़लता मिली। मीडिया रिपोर्ट्स अनुसार इस आदमख़ोर बाघ को मारने के लिये 7 सदस्यीय टीम में जिस में बगहा, बेतिया और मोतिहारी STF सहित ज़िले के 7 तेज़ तर्रार पुलिस कर्मियों को अत्याधुनिक असलहों के साथ जंगल में भेजा गया था।

VTR (वाल्मीकि टाइगर रिज़र्व) बिहार के चम्पारण जनपद के साथ-साथ नेपाल व यूपी तक फ़ैले बड़े एक बड़े वन क्षेत्र का भाग है। यहाँ के जंगल के नज़दीक बहुत से गाँव भी बसे हुए हैं। एक अनुमान के अनुसार यहाँ यूपी व नेपाल के जंगलों में लगभग 50 से अधिक बाघ हैं। (Tiger killed in Bagaha)

आमतौर पर यें बाघ विचरण करते हुए आबादी से कुछ दूर तक के जंगल मे तो आते रहते हैं, लेकिन गाँव में नहीं आते हैं। इनमें से मारा गया यह बाघ आदमख़ोर होने के चलते पिछले कुछ समय से आबादी में घुसकर लोगों को अपना शिकार बनाने लगा था। (Tiger killed in Bagaha)
यह भी पढ़ें- महाराष्ट्र के नासिक में बस में लगी आग से 8 यात्रियों की मौत और 32 यात्री घायल, कंटेनर से टकराने के बाद लगी बस में आगNashik Bus Fire

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]