UP E-Rickshaws News: यूपी में अब मुख्य मार्गों पर नज़र नहीं आयेंगे ई-रिक्शा, प्रदेश सरकर ने जाम से मुक्ति दिलाने हेतु मुख्य मार्गों से ई-रिक्शाओं को हटाने के दिये निर्देश

UP E-Rickshaws News: यूपी में अब मुख्य मार्गों पर नज़र नहीं आयेंगे ई-रिक्शा, प्रदेश सरकर ने जाम से मुक्ति दिलाने हेतु मुख्य मार्गों से ई-रिक्शाओं को हटाने के दिये निर्देश

 

लखनऊ: UP E-Rickshaws News- उत्तर प्रदेश सरकार ने अब ई-रिक्शाओं को लेकर प्रदेश के सभी ज़िलों को एक आदेश दिया है कि 3 माह के भीतर मुख्य सड़कों से ई-रिक्शाओं को हटा दिया जाये। प्रदेश सरकार ने सभी ज़िलों के ज़िलाधिकारियों को भेजे गये पत्र में कहा है कि “शहरों में जाम व दुर्घटनाओं की वजह बन रहे इन ई-रिक्शाओं को मुख्य मार्गों से हटाना आवश्यक हो गया है।UP E-Rickshaws News

उत्तर प्रदेश सरकार के निर्देश के अनुसार अब ई-रिक्शा लिंक मार्गों से सवारियों को लेकर मुख्य मार्ग तक तो आ सकेंगे लेकिन मुख्य मार्गों पर चलेंगे नहीं। हालांकि इस ई-रिक्शाओं पर की जाने वाली इस कार्यवाही को अन्जाम देने सेपूर्व इनके लिये फीडर रूट तय किये जायेंगे। बता दें कि मुख्य मार्गों को जोड़ने वाली सड़कों को ही फीडर रूट नाम दिया गया है। (UP E-Rickshaws News)

शासन ने ई-रिक्शाओं के फीडर रूट तय करने हेतु 3 महीने का समय दिया है। परिवहन आयुक्त एल वेंकटेश्वर लू की तरफ़ से जारी इस शासनादेश में कहा गया है कि “परिवहन विभाग, पुलिस, ट्रैफिक, नगर निगम और ज़िला प्रशासन की टीम अपने जनपदों में सर्वे करे, और सर्वे के बाद ई-रिक्शाओं के लिये फीडर रूट का निर्धारण करें।” (UP E-Rickshaws News)UP E-Rickshaws News

बता दें कि शहरों में बढ़ती आबादी और बढते प्रदूषण को दृष्टिगत रखते हुए पहले सरकार ने डीज़ल व पेट्रोल ईंधन से चलने वाले वाहनों को हटाकर ही इन इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा दिया था। जिसके अंतर्गत उन रूटों पर ही ई-रिक्शाओं के संचालन की अनुमति थी, जिन पर आमतौर पर यातायात साधनों का अभाव था। ऐसे ही रुट पर इन ई-रिक्शाओं को सवारियों को मुख्य मार्ग तक संचालित करने की अनुमति थी। (UP E-Rickshaws News)

लेकिन अब यें ई-रिक्शा अपने निर्धारित लक्ष्य से भटककर गाँवों, मोहल्लों और कॉलोनियों की बजाय मुख्य मार्गों पर ही सरपट दौड़ने लगे हैं। जिसके चलते इन ई-रिक्शाओं से शहर के भीतर भीषण जाम की स्थिति बनने लगी है। और मुख्य मार्गों पर इन ई-रिक्शाओं की संख्या में भारी बढ़ोतरी होने से हादसों में वृद्धि हो रही है। (UP E-Rickshaws News)
यह भी पढ़ें- अब अखिल भारत हिन्दू महासभा का 6 दिसम्बर को मथुरा शाही ईदगाह में हनुमान चालीसा पाठ करने का ऐलान, कहा पिछले वर्ष तो प्रशासन ने अड़ंगा लगा दिया थाKanpur Bouncer Sadiq Death Case

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]