Yati Narsinhananad: यति नरसिंहानन्द ने हिन्दुओं से ‘हर घर तिरंगा’ अभियान के बहिष्कार का किया आह्वान, कहा इससे मुसलमानों को जा रहा है पैसा

Yati Narsinhananad: यति नरसिंहानन्द ने हिन्दुओं से ‘हर घर तिरंगा’ अभियान के बहिष्कार का किया आह्वान, कहा इससे मुसलमानों को जा रहा है पैसा

ग़ाज़ियाबाद,यूपी: Yati Narsinhananad-
हमेशा मुसलमानों के ख़िलाफ़ ज़हर उगलने वाले डासना मन्दिर के पुजारी यति नरसिंहानन्द ने अब पीएम मोदी के ‘हर घर तिरंगा’ जैसे देशभक्ति के अभियान को लेकर एक देश विरोधी ही बयान दे दिया है। यति नरसिंहानन्द ने मुसलमानों से नफ़रत की आग जलते हुए अब हिन्दुओं से केन्द्र सरकार द्वारा चलाये जा रहे ‘हर घर तिरंगा’ अभियान का विरोध करने का आह्वान करते हुए कहा कि इससे सिर्फ़ मुसलमानों को आर्थिक लाभ पहुँच रहा है।

यति नरसिंहानन्द एक वायरल वीडियो में कहते हुए दिखाई दे रहे हैं कि “इस देश में तिरंगे के नाम पर एक बहुत बड़ा अभियान चलाया जा रहा है, जिसे भारत की सत्तारूढ़ पार्टी बीजेपी चलवा रही है।” उन्होंने कहा कि “आज देश में जहाँ मुसलमानों के आर्थिक बहिष्कार की बात की जा रही है, तो वहीं यह सरकार (मोदी सरकार) ने तिरंगा बनाने का सबसे बड़ा ऑर्डर ही एक ऐसी बंगाल की कम्पनी को दे दिया है, जिस का मालिक एक सलाउद्दीन नाम का मुसलमान है।” (Yati Narsinhananad)

यति नरसिंहानन्द ने कहा कि “दुनिया के सब से बड़े पाखंडी तो हिन्दू हैं, यें हिन्दुओं के दलाल जो मुसलमानों के आर्थिक बहिष्कार की बात करते हैं, और जो हमेशा चिल्लाकर कर कहते हैं कि, हिन्दुओं को मुसलमानों का आर्थिक बहिष्कार करना चाहिये..लेकिन सरकार बनने के बाद वे ही लोग सरकारी ठेके भी मुसलमानों को दे देते हैं।” (Yati Narsinhananad)

यति नरसिंहानन्द ने कहा कि ” यह ‘हर घर तिरंगा’ अभियान हिन्दुओं के ख़िलाफ़ एक षडयन्त्र है, इसलिये हिन्दुओं अगर ज़िन्दा रहना है तो, मुसलमानों को पैसा पहुँचने वाले इस ‘हर घर तिरंगा’ अभियान का बहिष्कार करो।” (Yati Narsinhananad)
बताया जा रहा है कि यति नरसिंहानन्द का वायरल हो रहा यह वीडियो डासना मन्दिर का है, जो कि 15 दिन पहला कहा जा रहा है। लेकिन सोशल मीडिया पर अब वायरल हो रहा है। देखिये यह पूरा वीडियो…

यह भी पढ़ें- गोरखपुर पुलिस को उस वक़्त अपना गुडवर्क पड़ा भारी,जब भैंसे खा गयी 3 लाख 12 हज़ार रुपये का चारा, अब पुलिस भुगतान कहाँ से करे?Gorakhpur News

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]