Yogi’s billdozer action: यूपी के हापुड़ में 50 वर्ष पुराने घरों व दुकानों पर चला योगी का निष्पक्ष बुलडोज़र, पीड़ितों ने कहा ‘हमने तो भाजपा को ही वोट दिया लेकिन फ़िर भी…

Yogi’s billdozer action: यूपी के हापुड़ में 50 वर्ष पुराने घरों व दुकानों पर चला योगी का निष्पक्ष बुलडोज़र, पीड़ितों ने कहा ‘हमने तो भाजपा को ही वोट दिया लेकिन फ़िर भी…

उत्तर प्रदेश:
हापुड़ ज़िले के गढ़मुक्तेश्वर में पिछले 50 वर्षो से मुक्तेश्वर महादेव मन्दिर की भूमि पर मकान और दुकाने बनाकर रह रहे लगभग 20 लोगों के परिवारों के मकानों और दुकानों के अवैध निर्माण पर बुधवार को ज़िला प्रशासन ने बुलडोज़र चलाकर ध्वस्त कर दिया। अवैध निर्माण के ध्वस्तीकरण की यह कार्यवाही गढ़मुक्तेश्वर के उप-ज़िलाधिकारी अरविन्द द्विवेदी के दिशा निर्देशन में हुई है। (Yogi’s billdozer action)

Yogi's billdozer action

हालांकि अवैध रूप से बने इन मकानों और दुकानों को कब्जा मुक्त करने के लिये गढ़ एस.डी.एम ने नोटिस भी जारी किया था जिसमें यथाशीघ्र जगह को ख़ाली करने के लिये इन लोगों को कहा गया था। लेकिन चेतावनी की समय सीमा ख़त्म होने के बाद भी इन लोगों ने जगह ख़ाली नहीं की। इसके बाद बुधवार को ज़िला प्रशासन की टीम बुलडोज़र के साथ मुक्तेश्वर महादेव मन्दिर पहुँची और सभी अवैध घरों और दुकानों को बुलडोज़र चलाकर अतिक्रमण मुक्त कर दिया। (Yogi’s billdozer action)

इस दौरान अपने मकानों और दुकानों पर बुलडोज़र चलता देख लोगों की आँखों में आँसू आ गये। हालांकि अपने मकानों को ध्वस्त होता देख लोगों ने प्रशासनिक अधिकारियों से गुहार भी लगाई लेकिन योगी के यें निष्पक्ष कार्यवाही करने वाले बिल्डोज़र कहाँ रुकने वाले थे? देखते ही देखते योगी के बुलडोज़रों ने सभी अवैध मकानों और दुकानों को ज़मीदोज़ कर दिया। टूटे घरों,दुकानों और बिखरे पड़े सामानों को देखकर बुज़ुर्ग महिलायें, युवतियां और बच्चे रोते रहे। (Yogi’s billdozer action)

Yogi's billdozer action

इस दौरान पीड़ित परिवारों ने रोते बिलखते हुए कहा कि “हमने तो भाजपा को ही वोट दिया था और उन्होंने हमारे मकान ही तोड़ दिये..हमें तो सड़क पर बैठा दिया है।” पीड़ितों ने कहा कि “हमारा 20 लोगों का परिवार है और हम सभी ने भाजपा को ही वोट दिया था। हमारी तो यहाँ 5 पीढ़ियां रह चुकी है। और हम यहाँ लगभग 100 वर्षो से भी अधिक समय से यहाँ रहे थे। (Yogi’s billdozer action)

इस संबंध में गढ़मुक्तेश्वर एस.डी.एम अरविन्द द्विवेदी का कहना है कि “तीर्थ नगरी में यह मुक्तेश्वरा महादेव मन्दिर महाभारत कालीन है। लेकिन जो यहाँ यह कार्यवाही हुई है, इससे पूर्व इन लोगों को प्रशासन की ओर से नोटिस दिये गए थे। हालांकि कुछ लोगों ने तो समय रहते यह जगह ख़ाली कर दी थी लेकिन जिन लोगों ने ऐसा नहीं किया उनके ही विरुद्ध यह अवैध निर्माण ध्वस्तीकरण की कार्यवाही की गई है। उनका कहना है कि इस कार्यवाही में लगभग 2 बीघा भूमि को क़ब्ज़ामुक्त मुक्त कराया गया है।” (Yogi’s billdozer action)
यह भी पढ़ें- हनुमान के जन्म स्थल विवाद सुलझाते सुलझाते आपस में ही भिड़ पड़े सन्त

Hanuman birth place controversy: हनुमान के जन्म स्थल विवाद सुलझाते सुलझाते आपस में ही भिड़ पड़े सन्त

Author: Desh Duniya Today [Farhad Pundir]